गोण्डा संवाददाता सतीश वर्मा

गोंडा।डीएम मार्कंडेय शाही ने वरासत अभियान को लेकर और सख्ती कर दी है तथा सभी एसडीएम को सख्त निर्देश दिए हैं कि आगामी 28 फरवरी तक सभी लेखपालों, राजस्व निरीक्षकों, तहसलीदार तथा नायब तहसीलदारों से इस आशय का प्रमाण पत्र ले कि उनकी तहसील में निर्विवाद वरासत का एक भी मामला लंबित नही है तथा सभी अविवादित वरासतें दर्ज हो गई हैं।
जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिए हैं कि दर्ज की गई वरासतों को आर6 रजिस्टर में अंकना कराने के साथ ही खतौनी में भी दर्ज करा दिए जाने का प्रमाणपत्र लिया जाएगा।
जिलाधिकारी ने यह भी बताया कि 28 तारीख के बाद वे स्वयं रैंडम गांव का निरीक्षण करेंगे तथा क्रॉस चेकिंग करेंगे। डीएम ने स्पष्ट चेतावनी दी है कि यदि अविविवादित वरासत का एक भी प्रकरण लंबित पाया जाएगा तो संबंधित लेखपाल सहित सभी संबंधित अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करते हुए कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here