Close

Baliya : हुकुम छपरा गंगा घाट पर लगा गंदगी का अंबार

बलिया (ब्यूरो अनिल सिंह) – आखिर कब तक लगा रहेगा गंगा घाटों पर गंदगी का अंबार । सरकार के बार बार जागरुकता अभियान चलाने के वावजूद नहीं रुक रहा लोगों के द्वारा गंगा में गंदगी फेकना ।

भारत सरकार की ड्रीम प्रोजेक्ट नमामि गंगे योजना को मुंह चिढ़ाता जिले का हुकुम छपरा का गंगा घाट ।

एन एच 31 सड़क के किनारे जिले का चर्चित गंगा घाट जहां पर अंतर्राष्ट्रीय जल मार्ग इ प्रयागराज (इलाहाबाद) से हल्दिया तक के आवागमन करने वाली यात्री व मालवाहक जहाजों के रुकने के लिए अस्थाई प्लेटफार्म , जेटी भी बनाया गया है। जिसका उद्घाटन समारोह भव्य तरीके से आयोजित किया गया था । और जेटी का उद्घाटन जिले के लोकप्रिय सांसद बीरेंद्र सिंह मस्त ने किया था ।

आज वहा जेटी के अगल बगल व सामने गंगा घाट पर बदबूदार गंदगी का अंबार लगा हूवा हैं। और स्नान करने वाले स्नार्थी इधर उधर स्नान कर रहे है । जबकि शासन द्वारा गंगा किनारे घाटों की साफ- सफाई करने हेतु कई संस्थाएं भी बनाई गई है। जिस पर सरकार का काफी पैसा भी खर्च होता रहा है ।

लेकिन संस्था के लोग यदा कदा साफ सफाई करने की जगह पर केवल फोटो सूट करके प्रचार प्रसार में लगे रहते हैं। जबकि आए दिन इस घाट पर स्नार्थियो सहित मुंडन संस्कार करने वाले हजारों लोगों की भारी संख्या में भिड़ जुटती है। बावजूद इसके घाट के किनारे बदबूदार गंदगी का अंबार लगा हुआ है। आस पास के तटवर्ती इलाकों के लोगों का कहना है कि जब राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त गंगा घाट पर इतना गंदगी है । तो अन्य जगहो पर गंगा घाटों पर क्या स्थिति होगी।

वही यात्री व मालवाहक जहाजों के रुकने के लिए बने हुए अस्थाई प्लेटफार्म (जेटी ) पर स्नान करने वाले महिलाए कपड़े धोती रहती हैं। और स्नान करने वाले स्थानीय बच्चे जेटी पर से कूद कूद कर गंगा स्नान कर रहे है । बच्चों का जेटी से कूदकर स्नान करना खतरे से इंकार नहीं किया जा सकता।

https://udnews.net/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top