Ration Card News Update: सरकार द्वारा राशन कार्ड को लेकर नया आदेश जारी किया गया है जिसके तहत अन्त्योदय और पात्र गृहस्थी राशन कार्ड धारकों का वेरिफिकेशन 30 दिन के भीतर पूरा करने का आदेश दिया गया है। उस वेरिफिकेशन के दौरान अपात्र पाए जाने वाले लाभार्थियों का राशन कार्ड निरस्त किया जाएगा और उनकी जगह पात्र लाभार्थिनयों का कार्ड बनाकर उन्हेंक राशन योजना का लाभ दिया जाएगा।

हमेशा बदलती रहती है व्यक्तिगत जानकारी

इस संबंध में उत्तरर प्रदेश के फूड एंड सप्लाई कमि‍शनर मार्कडेय शाही ने सभी जिलाधिकारियों और जिला आपूर्ति अधिकारीयों को निर्देश दिये हैं और इस संबंध में अपर खाद्य आयुक्त अनिल कुमार दुबे ने बताया की लाभार्थिोयों द्वारा दी जाने वाली व्यक्तिगत जानकारी समय-समय पर बदलती रहती है। जिसके कारण राशन कार्डों में अपात्र यूनिट शामिल होने की शिकायतें समय-समय पर मिलती रहती हैं। अपात्र कार्ड धारकों को नेशनल फूड सिक्योरिटी एक्ट 2013 के तहत अभियान चलाकर अपात्र पाए जाने वाले लाभार्थिरयों की जगह पात्रों को राशन कार्ड जारी किया जाता है।

अपात्रों के राशन कार्ड सूची से नाम की कटौती

उन्होंने कहा इस तरह के अभियान चलाने का मकसद है की अपात्रों को लाभार्थियों की सूची से हटाना और पात्रों को योजना का लाभ देना है। योजना के तहत दी गई सूचना के आधार पर परिवार के सदस्यों की संख्या, आयु, निवास स्थान आदि की डिटेल को एकत्र करके डाटाबेस तैयार किया जाता है। जिससे कार्ड धारकों की मृत्यु या आर्थिक स्थिति बेहतर होने के आधार पर सम्बंधित कार्ड धारक के अपात्र होने की संभावना रहती है। आपको बता दें सरकार की तरफ से समय-समय पर राशन कार्डों का वेरिफिकेशन कराया जाता है। सरकार की तरफ से पिछले दिनों संसद में दी गई जानकारी में बताया गया की देश में 2017 से 2021 तक डुप्लीकेट, अपात्र और जाली 2 करोड़ 41 लाख राशन कार्ड रद्द किये गए। इस दौरान सबसे ज्या2दा राशन कार्ड यूपी में ही करीब 1.42 करोड़ कार्ड को रद्द किये गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here