ब्यूरो

कोहंडौर क्षेत्र के शाहपुर बघुमरा गांव में गुरुवार की रात करीब साढ़े बारह बजे कच्चा मकान भरभरा कर गिर गया। हादसे में परिवार के लोग बाल बाल बच गए। पीड़ित मकान स्वामी भोला नाथ वर्मा ने प्रशासन से प्रधान मंत्री आवास योजान के तहत मकान दिलाएं जाने की गुहार लगाई है। बघुमारा निवासी भोला नाथ वर्मा का कच्चा मकान बना है।मिट्टी और लकड़ी से बना मकान काफी समय से जर्जर हालत में था। गुरुवार की रात भोला वर्मा पत्नी कमला देवी वर्मा और चार बच्चे विपिन कुमार वर्मा जीतेंद्र वर्मा धर्मेंद्र वर्मा व बेटी अंजलि इसी कच्चा घर पर छप्पर में सो रहे थे। करीब साढे बारह बजे मकान अचानक भरभरा का ढह गया। कच्चा घर गिरने से घर में अफरा तफरी मच गई। गनीमत रही है, हादसे में परिवार का कोई सदस्य चपेट में नहीं आया।भोला नाथ वर्मा ने बताया कि जर्जर मकान में जीवन यापन उनकी मजबूरी बन गई है। भोला नाथ वर्मा का बड़ा बेटा विपिन कुमार वर्मा दोनों पैरों से विकलांग है भोला नाथ मजदूरी कर अपना और अपने परिवार का किसी तरह घर परिवार चलता है पीड़ित परिवार प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवेदन किया था, लेकिन अब तक आवास नहीं मिल सका है।घर गिरने की सूचना भोला नाथ वर्मा ने क्षेत्रीय लेखपाल चन्द्र भान को दिया ।लेकिन लापरवाह विभाग कर्मी पीड़ित परिवार के घर जांच करने नहीं पहुंचा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here