Post Office Saving Scheme: भारतीय पोस्ट ऑफिस (India Post) कई तरह की सेविंग स्कीम (Saving Scheme) चलाता है. अगर आप पोस्ट ऑफिस में अपनी कमाई निवेश (Invest In Post Office) करने का प्लान बना रहे हैं, तो किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra) में कर सकते हैं. पोस्ट ऑफिस की ये स्कीम सबसे अधिक पॉपुलर है, क्योंकि इसमें शानदार रिटर्न मिलने के साथ अपका पैसा भी सुरक्षित रहता है. आप छोटी सी राशि से भी इस स्कीम में निवेश की शुरुआत कर सकते हैं. पैसे को डबल (Money Double) करने के लिए भी लोग इस स्कीम का खूब इस्तेमाल करते हैं.

डबल होता है पैसा

किसान विकास पत्र स्कीम में निवेश करने वालों को 6.9 फीसदी के दर से ब्याज (Kisan Vikas Patra Interest Rate) मिलता है. आप 1000 रुपये से इस स्कीम में निवेश की शुरुआत कर सकते हैं. इसमें अधिकतम निवेश की कोई लिमिट नहीं है. अगर आप स्कीम खरीदने के एक साल के भीतर ही इसे वापस कर देते हैं, तो आपको किसी भी तरह के ब्याज का लाभ नहीं मिलेगा. किसान विकास पत्र में आपकी निवेश राशि 124 महीने यानी 10 साल 4 महीने में डबल हो जाती है.

कौन कर सकता है इसमें निवेश

किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra) के तहत 18 साल या उससे अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति अपना अकाउंट खुलवा सकता है. 10 साल से कम उम्र के नाबालिग की ओर से कोई वयस्क खाता खुलवा सकता है. नाबालिग की उम्र 10 साल पूरी होने पर खाता उसके नाम हो जाता है. इसके अलावा तीन व्यक्ति एक साथ ज्वाइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं. इस स्कीम का लाभ देशभर के किसी भी पोस्ट ऑफिस से उठाया जा सकता है.

मिल सकता है लोन

किसान विकास पत्र का मैच्योरिटी पीरियड 124  महीने का है. ये स्कीम इनकम टैक्स अधिनियम (Income Tax Act) 80C के तहत नहीं आती. इसकी वजह से जो भी रिर्टन आएगा उसपर टैक्स (Tax on Return) देना होगा. हालांकि, इस स्कीम में TDS की कटौती नहीं की जाती है. अगर आप इस स्कीम में 50 हजार रुपये से अधिक का निवेश करते हैं, तो आपको अपने पैन कार्ड की डिटेल्स शेयर करनी होगी. किसान विकास पत्र स्कीम को गांरटी के तौर पर इस्तेमाल कर आप लोन भी ले सकते हैं.

कैसे खुलवाएं खाता

किसान विकास पत्र के तहत खाता खुलवाना के लिए आपको अपने नजदीकी डाकघर में जाना होगा. वहां, जमा पर्ची के साथ आवेदन पत्र भरें. इसके बाद अपना निवेश नकद,चेक,डिमांड ड्राफ्ट या पे ऑर्डर के माध्यम से जमा कर दें. आवेदन के साथ पहचान पत्र की फोटो कॉपी जरूर लगाएं. इसके बाद अपने आवेदन को काउंटर पर जमा कर दें. वहां से आपको किसान विकास पत्र का प्रमाणपत्र मिल जाएगा. आप पासबुक भी प्राप्त कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here