Business Idea: केंद्र सरकार ने देश में सोलर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए सोलर रूफटॉप योजना की शुरुआत की है। बदलते वक्त के साथ आज तकनीक में भी बदलाव हो रहा है। पहले जिन काम को बड़ी-बड़ी मशीनों के द्वारा किया जाता था आज वो काम छोटी सी मशीन कर रही है। किचन में खाना बनाने से लेकर रोड पर चलने वाली गाड़ियां भी आज ईंधन की बजाय इलेक्ट्रिक मोड पर चल रही है।

केंद्र सरकार भी लोगों को सोलर ऊर्जा की तरफ शिफ्ट होने के लिए प्रोत्साहित कर रही है। सोलर का इस्तेमाल करने से हम ईंधन का इस्तेमाल तो कम करेंगे ही साथ ही साथ प्रकृति को भी बचाएंगे। सरकार सोलर पैनल लगाने के लिए लोगों को सब्सिडी दे रही है। यदि आप भी अपने घर पर सोलर प्लांट लगाने की सोच रहे है तो ये खबर आपके काम की है.

iPhone 13 की कॉपी है ये स्मार्टफोन, कीमत है मात्र 10,000 रुपये से भी कम !

क्या है सोलर रूफटॉप योजना

केंद्र सरकार ने सोलर रूफटॉप योजना शुरू की है। इसके तहत सरकार घरों की छत पर लोगों को सोलर प्लांट लगाने के लिए सब्सिडी देती है। इसका मकसद सोलर ऊर्जा को बढ़ावा देना और बिजली, कोयले की खपत को कम करना है। सरकार के द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी आपके प्लांट साइट पर निर्भर करती है। यदि आपका प्लांट बड़ा है, तो आपको बड़ी राशि सब्सिडी के तौर पर मिलेगी। वहीं अगर आपका प्लांट छोटा है, तो आपको सब्सिडी कम मिलेगी।

औंधे मुंह गिरा सरसों तेल के दाम, जानिए आज के रेट!

केंद्र सरकार ने जनवरी 2022 में रूफटॉप सोलर प्रोग्राम के तहत आवासीय उपभोक्ताओं के लिए रूफटॉप सोलर प्लांट खुद लगाना है या किसी विक्रेता के माध्यम से लगाने की प्रक्रिया को सरल बना दिया है।

इस योजना के तहत खर्च का भुगतान 5 से 6 साल में किया जाएगा। इसके बाद आप 20 साल तक सोलर पैनल से फ्री बिजली ले सकते है साथ ही साथ बची हुई बिजली को सरकार को भी बेच सकते है। सोलर रूफटॉप योजना से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए आप mnre.gov. in पर जा सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here