सिंगरौली जिले में नगरी निकाय चुनाव के आगाज होते ही सभी पार्टियों के कार्यकर्ताओं में एक नया जोश और उमंग देखने को मिला वही सभी पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने वाडों में अपनी पार्टी के प्रचार प्रसार चालू कर दिया । परंतु जब पार्टियों द्वारा नगरी निकाय चुनाव में 45 वार्डों में प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी गई जिसमें भाजपा द्वारा वार्डों में प्रत्याशियों के नाम घोषणा करने के बाद जमीन स्तर पर कार्य कर रहे कार्यकर्ताओं मे नाराजगी जाहिर की गई जिसका जीता जागता उदाहरण नगर निगम क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 15 में देखा जा रहा जहां भाजपा से पूर्व पार्षद रही मानमती कुशवाहा पति राम शुभग कुशवाहा ने भाजपा की नीतियों का बगावत करते हुए निर्दलीय नामांकन किया है मानमती कुशवाहा के द्वारा निर्दलीय नामांकन करने के कारण वार्ड क्रमांक 15 में भाजपा के पैराशूट प्रत्याशी के साथ-साथ कांग्रेस प्रत्याशी की भी मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है। दरअसल पूर्व पार्षद के रूप में इनके कार्यकाल से लोग काफी प्रभावित रहे तो वही पार्टी से टिकट ना मिलने पर बगावत की स्थिति निर्मित हुई एक तरफ जहां चुनाव लड़ने से ही मना कर दिया गया था तो वहीं दूसरी तरफ वार्ड वासियों के कहने पर मैदान में उतरी हैं मुकाबला बहुत ही दिलचस्प होने वाला है परिणाम क्या होगा या तो आने वाला वक्त ही बताएगा

वार्ड क्रमांक 15 में भाजपा की पैराशूट प्रत्याशी भी लगातार भारी बहुमत से जीत का दावा कर रही है तो वहीं कांग्रेस प्रत्याशी भी लगातार जनसंपर्क कर मतदाताओं अपने पक्ष में मतदान करने के लिए प्रेरित करते नजर आ रहे हैं। इस बार की निकाय चुनाव में खास बात तो यह है कि सत्ता पर काबिज भाजपा अपने कई सीटों से हाथ धोती नजर आ रही है और शायद इसी डैमेज को कंट्रोल करने के लिए सूबे के मुखिया का आगमन सिंगरौली हो रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here