सिंगरौली: आखिरकार एक लंबे अंतराल के बाद मध्यप्रदेश में हुए निकाय चुनावों के बाद आज परिणाम आखिरकार घोषित किए गए वोटों की गिनती शुरू होते ही एक तरफ जहां आम आदमी पार्टी ने अपनी बढ़त बनाकर रखी तो वही दूसरे पायदान पर भारतीय जनता पार्टी एवं तृतीय पायदान पर कॉन्ग्रेस रही। निकाय चुनावों के परिणाम जिस तरह से निकल कर सामने आए हैं उसमें इस बार सिंगरौली जिले की जनता ने आम आदमी पार्टी पर अपना विश्वास प्रकट किया एवं प्रचंड बहुमत के साथ आम आदमी पार्टी की महापौर प्रत्याशी रानी अग्रवाल 10000 वोटों से विजयी हुई। इसके साथ ही सिंगरौली जिले की राजनीति में एक नया अध्याय जुड़ गया है दरअसल मध्यप्रदेश में वर्षों से काबिज भारतीय जनता पार्टी एवं कांग्रेस पार्टी जहां एकमात्र ऐसी पार्टियां थी जो कि लोगों की जुबान पर रहती थी इस बार के निकाय चुनावों में आप की एंट्री के साथी शुरुआत से ही जनता का रुझान आपको मिले लगा था एवं आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सिंगरौली दौरे के साथ ही आम आदमी पार्टी को लेकर जिले में चर्चाएं जोरों शोरों से शुरू हो गए थे तो वहीं इस दौरे पर जनता की निगाह टिकी रही केजरीवाल के रोड शो के दौरान किए गए वादों पर जनता ने विश्वास कर अपना प्रचंड बहुमत आपको दिया

इस प्रकार रही महापौर प्रत्याशियों की मतों की गणना

नगरी निकाय चुनाव के परिणाम को लेकर सुबह से ही प्रत्याशियों सहित जिले के लोगों में परिणामों का इंतजार कर रहे लोगों की भीड़ भी मतगणना स्थल के बाहर सड़कों पर दिखी महापौर प्रत्याशियों के मतों की गणना के आधार पर जो रिजल्ट निकल के सामने आए हैं वह कुछ इस प्रकार से हैं

आम आदमी पार्टी 34585
भारतीय जनता पार्टी 25233
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस 25031

आपको बताते चलें कि मतों की गणना 9round में होनी थी शुरू से ही मतों की गणना प्रारंभ होते ही आपकी तरफ रुझान जाने लगे एवं आप पार्टी ने शुरुआत से ही अपनी बढ़त बनाए रखी तो वहीं दूसरी कांग्रेस एवं भाजपा ऊपर नीचे होती रही एवं छठ में राउंड के बाद से ही आम आदमी पार्टी की जीत की स्थिति स्पष्ट होने लगी थी

आपने जहां 4000 से 6000 मतों से अपनी बढ़त बनाए रखें तो वही कांग्रेस भाजपा एक दूसरे को टक्कर देते नजर आए दूर-दूर तक आम आदमी पार्टी की बराबरी यह दोनों राजनीतिक दल नहीं कर पाए एवं आखरी दौर के मतों की गणना के आधार पर कुल 34000 से ज्यादा वोटों से आम आदमी पार्टी विजयी घोषित हुई भाजपा का गढ़ कहे जाने वाले सिंगरौली जिले में भाजपा 30,000 वोटों को समेटने में भी असफल रही



पार्षद प्रत्याशियों के परिणाम कुछ इस प्रकार

नगरी निकाय सिंगरौली के परिणामों में वार्ड नंबर 1 से लेकर वार्ड 45 तक के पार्षदों मैं राजनैतिक दल सहित निर्दलीय प्रत्याशियों ने भी जीत हासिल की है नगर निगम क्षेत्र के 45 वार्डों की यदि हम बात करें तो इस बार के निकाय चुनाव परिणाम ने आम आदमी पार्टी ने भी अपनी जगह बनाई है

भाजपा-23
कॉन्ग्रेस-12
आप-5

आपके आने से बदली जिले की राजनीति

औद्योगिक एवं ऊर्जा धानी कही जाने वाली सिंगरौली जिले में जिस तरह से आम आदमी पार्टी सत्ता पाने में कामयाब रही है एवं इस सीट के साथ ही आम आदमी पार्टी की एंट्री मध्यप्रदेश में हो गई नगरी निकाय चुनाव में जिस तरह से सिंगरौली जिले में आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी रानी अग्रवाल प्रचंड बहुमत के साथ महापौर प्रत्याशी के रूप में चुनी गई उससे तो यही प्रतीत होता है कि जनता ने जिस कदर अरविंद केजरीवाल एवं रानी अग्रवाल पर भरोसा जताया है उसे जनता को काफी उम्मीदें हैं

अब ऐसे में यह देखने वाली बात होगी कि आम आदमी पार्टी सिंगरौली जिले के नगर निगम क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यों को लेकर जनता की नजरों में आखिरकार कितनी खरी उतर पाएगी सबसे प्रमुख तो यह है कि जिले में जहां संसाधन तो पर्याप्त है परंतु क्षेत्र का विकास उस तरह से नहीं हो पाया जिस तरह से होना चाहिए था एक तरफ जहां क्षेत्र के विकास को लेकर नगर निगम की स्थापना हुई तो वहीं नगर निगम क्षेत्र में स्थापित औद्योगिक इकाइयों की सीएसआर फंड पर भी नजर डाले तो क्षेत्र में किसी भी तरह की कमी नहीं होना चाहिए था परंतु अब इसे जिले का दुर्भाग्य कहें या राजनीति की सिंगरौली की जनता हमेशा से सिर्फ वादों एवं नेताओं की चिकनी चुपड़ी बातों में आ जाती रही ऐसे में जनता का आप पार्टी पर भरोसा दिखाना तो यही प्रतीत कर रहा है कि जनता अब जिले की मौजूद पार्टियों एवं नेताओं से ऊब चुकी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here