SINGRAULI। हिंडालको महान अपने निगमित सामाजिक दायित्वों का निर्वहन करते हुए 25 दिव्यांगों को हस्तचलित तिपहिया सायकल का वितरण किया,कंपनी प्रमुख सेन्थिलनाथ के दिशा निर्देशन में हिंडालको महान के CSR सी.एस.आर.विभाग परिसर में आस पास के 18 गांवो के दिव्यांगों कोआमंत्रित कर उनके जीवन मे विकलांगता के श्राप को कम करने के उद्देश्य से तिपहिया साइकल वितरण किया गया,

वही कार्यक्रम में मानव संसाधन प्रमुख बिश्वनाथ मुखर्जी,पवार प्लांट हेड चंद्र शेखर सिंह, व ऑपरेशन हेड आर.पी. सिंह के मुख्य आतिथ्य में कार्यक्रम सम्पन्न हुआ ,जिसमेअपने विचार रखते हुये मानव संसाधन प्रमुख बिश्वनाथ मुखर्जी ने कहा कि दिव्यांगता अभिशाप नहीं है। दिव्यांग समाज के लिए प्रेरणास्रोत हैं और स्वस्थ जनों को जीवन की कला सिखाते हैं।

हमें पूरी तरह उनके प्रति अपना सम्मान बनाए रखने की आवश्यकता है। वही चंद्र शेखर सिंह ने अपने विचार रखते हुये कहा कि दिव्यांगता को अभिशाप नही मानना चाहिए,देश मे कई दिव्यांगों ने खेल से लेकर राजनैतिक,साहित्यिक व अंतराष्ट्रीय मंचो पर अपने ज्ञान व कला कौशल से आम जनों से बेहतर कुशलता से लोहा मनवाया है,और ओलम्पिक खेलो में भी कई पदक जीते हैं।

SINGRAULI:वही ऑपरेशन हेड ने दिव्यांग लोगो के लिए किए जा रहे प्रयास को एहसान न मानते हुये कर्तब्य बताया और कहा कि ये हमारी जिम्मेदारी हैं की हम आपके लिये कमाये,साथ ही ये कहा कि दिव्यांगता कोई अभिशाप नहीं है।

कठिन परिश्रम से अपनी कमजोरी को ताकत बनाया जा सकता है,वही सभीदिव्यांगो का अभिवादन करते हुये SINGRAULI सी.एस.आर.हेड यशवन्त कुमार ने आगे भी इसी तरह का काम करते रहेंगें,उन्होंने बताया कि अब आप लोग अपने गांव-शहर में कहीं भी आ जा सकते है।

पहले आने-जाने के लिए परिजन या किसी व्यक्ति का सहारा लेना पड़ता था।अब इस सायकल से आपके जीवन मेबदलाव आयेगा।वही कार्यक्रम का संचालन बीरेंद्र पाण्डेय ने किया ।

कार्यक्रम को सफल बनाने में CSR सी.एस आर.विभाग सेविजय वैश्य, धीरेंद्र तिवारी,शीतल श्रीवास्तव,प्रवीण श्रीवास्तव,देवेश त्रिपाठी, संजीव वैश्य,खलालू,अरविंद वैश्य, नरेंद्र, जियालाल, लखपति साकेत, तापस दत्ता, आदि शामिल रहे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here