SINGRAULI:हिंडालको महान प्लांट में सुरक्षा प्रथम लक्ष्य के परिपालन हेतु सदैव कृत संकल्पित रहा है,हिंडालको महान के परियोजना प्रमुख सेन्थिल नाथ व मानव संसाधन प्रमुख बिश्वनाथ मुखर्जी ने सी.एस.आर. विभाग के माध्यम से आम लोगो तक सुरक्षा अहम के मंत्र को जन जागरूकता के माध्यम से संचालित करने के लिये निर्देशित किया है।

इसी कड़ी में SINGRAULI हिंडालको महान ने निगमित सामाजिक दायित्व के तहत आस पास गांवो में भी सुरक्षा के प्रति लोगो का दृष्टिकोण में बदलाव लाने के लिये ग्राम बड़ोखर व ग्राम बरेनिया में घरेलू गैस सिलेंडर और चूल्हे से संबंधित एक दिवसीय सुरक्षा कार्यशाला का आयोजन किया गया

जिसमें SINGRAULI हिंडालको महान के कार्मिक प्रबंधक जमाल अहमद,सेफ्टी विभाग से निर्भय सिंह व सी.एस.आर.विभाग से बीरेंद्र पाण्डेय ने कार्यशाला में भागीदारी निभाई ।कार्यक्रम का उद्देश्य ग्राम बड़ोखर व ग्राम बरैनिया के लोगो को एल.पी.जी गैस सिलेंडर के उपयोग व उससे होने वाली दुर्घटना से ज्यादा से ज्यादा लोगो को जागरूक किया जा सके।

एक दिवसीय कार्यशाला में कार्मिक प्रबंधक जमाल अहमद ने ग्रामीणों को सुरक्षित उपयोग ,साथ ही कंपनी में कार्यरत कर्मियों के साथ साथ आस पास के ग्रामीणो के प्रति अपनी जिम्मेदारी मानते हुये लोगो को जागरूक करना अपना कर्तब्य बताया, व आगे भी अन्य जागरूक कार्यक्रम संचालित करने की बात कही,वही सेफ्टी विभाग से निर्भय सिंह ने लोगो को गैस की बचत के साथ साथ, लीकेज होने की स्थिति में किन-किन सावधानियों को बरतना चाहिए,व चूल्हा रखने के लिए घरों में प्लेट फॉर्म की निर्धारित ऊंचाई और आग लगने पर रखने वाली सावधानी के बारे में विस्तार से बताया।

इस मौके पर SINGRAULI ग्रामीण महिलाओं ने गैस कनेक्शन के बाद उनके अनुभवों को भी साझा किया। कार्यक्रम में भाग लेने वाली महिलाओ ने भी खुलकर बताया कि गैस के उपयोग से खाना बनाने में उनके समय की बचत होने लगी है। इससे दूसरे काम के लिए उनका समय मिल जाता है। यहां पर कुछ महिलाओं ने सिलेंडर से डर लगने की बात कही,और कहाँ की आपके इस प्रशिक्षण से हमारा डर कम हुआ है, इस कार्यक्रम का संचालन कर रहे हिंडालको महान के सी.एस.आर.विभाग से बीरेंद्र पाण्डेय ने एल.पी.जी.सिलेंडर से संबंधित अनुभव और सुझाव बताए। साथ ही बताया कि एल.पी.जी.सिलेंडर जागरूकता कार्यक्रम का यह अभियान दो माह तक अनवरत चलता रहेगा,इस जागरूकता कार्यशाला में आम लोगो द्वारा पूछे गये सवालों के तीनों प्रशिक्षको ने जबाब भी दिये,वही कार्यशाला को सफल बनाने में हिंडालको महान के सी.एस.आर.टीम जियालाल,खलालू व अरविंद का विशेष योगदान रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here