Sonbhadra कम बैक नागेश के युवाओं ने लगाए नारे।ईमानदार थाना प्रभारी के तबादले से आक्रोशित युवाओं ने कम बैक के लगाए नारे।

तेजतर्रार और ईमानदार छवि के शक्तिनगर थाना प्रभारी नागेश कुमार सिंह के तबादले से आक्रोशित युवाओं ने नगर के मुख्य बाजारों में रविवार की शाम को घूम कर “कम बैक नागेश” के नारे लगाते हुए पुलिस के तबादला और पोस्टिंग पर कई सवाल खड़े किए। भाजपा नेता रवि राय के साथ दर्जनों युवाओं ने ईमानदार छवि के पुलिस अधिकारी नागेश कुमार सिंह के दोबारा शक्तिनगर थाना प्रभारी के पद पर तैनाती की मांग किया।

फोन पर वार्ता करते हुए भाजपा नेता रवि राय ने बताया कि अपनी पोस्टिंग के साथ ही नागेश कुमार सिंह ने अपराध और अपराधियों पर ताबड़तोड़ करवाई कर उनकी कमर तोड़ दी। कोयला कबाड़ सिंडिकेट माफिया के खिलाफ सक्रिय अभियान चलाकर उन्हें क्षेत्र छोड़ने पर मजबूर कर दिया। कोई दबंग किस्म के अपराधी उनके समय में भूमिगत हो गए। ऐसे में भ्रष्टाचार और अपराध पर बड़ी चोट करने वाले पुलिस अधिकारी के साथ तबादला करने से सोनभद्र पुलिस की रीति व नीति पर कई गंभीर सवाल खड़े होते हैं।

यूपी पुलिस के सोनभद्र जिले में तैनात अधिकारी नागेश कुमार सिंह ने अपनी शक्ति नगर थाना प्रभारी के तैनाती के अगले दिन से ही अपराध पर जीरो टॉलरेंस की नीति से सबको परिचय करा दिया था। शुरुआत के तीन दिनों के अंदर ही दो बड़ी चोरियों का खुलासा कर नागेश कुमार सिंह ने अवैध कार्य करने वालों को संदेश दे दिया था कि यदि नहीं सुधरोगे तो जेल की हवा खानी पड़ेगी।

अवैध कोयला कारोबार के सिंडिकेट पर लगातार कार्रवाई कर कोल माफिया सिंडिकेट पर कार्रवाई कर नागेश कुमार सिंह ने अपनी अपराधियों के प्रति किसी भी हाल में कानून को ना हारने की प्रतिभा का शानदार उदाहरण दिया था। अवैध कार्य करने वाले मानने लगे थे कि जब तक नागेश कुमार सिंह शक्तिनगर थाना प्रभारी के पद पर तैनात रहेंगे तब तक अपराध करने पर जेल की हवा खानी पड़ेगी।

शक्तिनगर थाना अध्यक्ष के पद पर अपने दो महीने के कार्यकाल में ही नागेश कुमार सिंह ने ईमानदार पुलिस अधिकारी की जो अमिट छवि जनता के दिलों पर छोड़ी थी, उसका एक छोटा स्वरूप उनके विदाई समारोह में देखने को मिली। सैकड़ों की संख्या में उपस्थित नगर वासियों ने नम आंखों से अपने इमानदार थाना प्रभारी को विदाई दिया। इस दौरान थाना प्रभारी के आंखों से भी आंसू रुकने का नाम नहीं ले रहे थे। हर तबके के लोगों ने नागेश कुमार सिंह की ईमानदार और दमदार छवि की जमकर प्रशंसा किया।

ऊर्जांचल के चट्टी चौराहों पर आम जनता के बीच चर्चा जोरों पर है कि कोयला व कबाड़ माफियाओं पर लगातार कार्रवाई करने के कारण ही ईमानदार पुलिस अफसर की तबादला सिंडिकेट के इशारे पर हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here