सिंगरौली/प्लास्टिक इंजीनियरिंग में प्रशिक्षण देकर युवाओं का जीवन बदल रही एनसीएल NCL is changing the lives of youth by giving training in Singrauli/Plastic Engineering

SINGRAULI सिंगरौली/नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड(एनसीएलNCL) आस-पास के युवाओं को प्लास्टिक इंजीनियरिंग के क्षेत्र में उन्नत प्रशिक्षण देकर रोजगार/ स्वरोजगार के लिए तैयार कर रही है | यह प्रशिक्षण सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ पेट्रोकेमिकल्स इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी(सीपेट) के भोपाल, ग्वालियर, लखनऊ स्थित केन्द्रों पर विशेषज्ञों की देखरेख में दिया जा रहा है |

इस रोजगारपरक प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत एनसीएल के आस-पास के 500 बेरोजगार ग्रामीण युवाओं को सीपेट कि मदद से प्रशिक्षण Training दिया जाना है जिसमें से अभी तक सीपेट के भोपाल केंद्र में 80, ग्वालियर केंद्र में 37 तथा लखनऊ केंद्र में 101 युवाओं का प्रशिक्षण पूरा हो चुका है |

अभी तक प्रशिक्षण Training  पूर्ण करने वाले 218 अभ्यर्थियों में से 216 लोगों को रोजगार मुहैया कराया गया है | साथ ही वर्तमान समय में 80 बच्चों का प्रशिक्षण चल रहा है और बची हुई सीट के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू की जा रही है |

SINGRAULI एनसीएल सीएसआर के तहत इस प्रशिक्षण Training कार्यक्रम के पाठ्यक्रम शुल्क व सामग्री, वर्दी, प्रशिक्षण किट, आवास और प्रशासनिक शुल्क को मिलाकर प्रति उम्मीदवार 70,000/- व्यय कर रही है |

छह महीने के इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान युवाओं को प्लास्टिक प्रसंस्करण, इंजेक्शन मोल्डिंग, प्लास्टिक एक्सट्रूज़न जैसे महत्वपूर्ण औद्योगिक विधाओं में प्रशिक्षण दिया गया है जिसकी मदद से उनके लिए रोजगार के अनेक अवसर खुल गए हैं | यह प्रशिक्षण कार्यक्रम राष्ट्रीय कौशल योग्यता फ्रेमवर्क(एनएसक्यूएफ) द्वारा तय मापदण्डों के अनुसार तैयार किया गया है और साथ ही राष्ट्रीय कौशल योग्यता समिति(एनएसक्यूसी)द्वारा स्वीकृत है |

गौरतलब है कि एनसीएल NCL की होल्डिंग कंपनी कोल इंडिया लिमिटेड(सीआईएल) और सीपेट के बीच दिसंबर 2020 में एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए थे जिसके तहत सीपेट, कोल इंडिया की अनुषंगी कंपनियों के आस पास रहने वाले युवाओं को प्लास्टिक इंजीनियरिंग ट्रेड में प्रशिक्षण देकर रोजगार/ स्वरोजगार के लिए तैयार कर रही है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here