सिंगरौली: दर्जनों की संख्या में पहुंचे ग्रामीणों ने रोजगार सहायक के खिलाफ खोला मोर्चा Villagers who arrived in numbers opened a front against the employment assistant

SINGRAULI सिंगरौली: सिंगरौली जिले के चितरंगी तहसील अंतर्गत पंचायत के ग्रामीण दर्जनों की संख्या में जिला मुख्यालय पहुंचकर जिले के अधिकारियों से रोजगार सहायक के खिलाफ नाराजगी जाहिर की है एवं लिखित रूप से शिकायत देकर कार्रवाई की मांग की है

ग्रामीणों ने रोजगार सहायक पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं साथ ही बातचीत के दौरान ग्रामीणों ने बताया कि बगैर पैसे लिए किसी भी तरह का कोई कार्य रोजगार सहायक के द्वारा नहीं किया जाता है बरसों से पदस्थ रोजगार सहायक भ्रष्टाचार में लिप्त है

अतः मामले की शिकायत को लेकर दर्जनों की संख्या पहुंचे ग्रामीणों ने जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय में कलेक्टर के समक्ष एवं पुलिस अधीक्षक से भी मामले की शिकायत की है

जानें पूरा मामला

दरअसल सिंगरौली जिले के चितरंगी जनपद अंतर्गत आने वाले पोंडी क्रमांक 3 मैं बताओ रोजगार सहायक के पद पर 8 से 10 वर्षों से पदस्थ हैं ग्रामीणों villagers   ने अपनी बात रखते हुए बताया कि संबंधित रोजगार सहायक के द्वारा किसी भी कार्य हेतु अवैध तरीके से पैसे की मांग की जाती है

फिर चाहे राशन कार्ड का मामला हो या फिर प्रधानमंत्री आवास का जब तक हितग्राही पैसे नहीं देते हैं तब तक रोजगार सहायक के द्वारा शासन की कल्याणकारी योजनाओं से रोजगार सहायक के द्वारा वंचित किया जाता है और यह क्रम बदस्तूर जारी है जिस किसी ने भी रोजगार सहायक के विरोध में स्वर अपने मजबूत किए हैं उन्हें इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ा है

रोजगार सहायक की दबंगई की बात करते हुए ग्रामीण ने कहा कि पंचायत के सचिव एवं सरपंच भी इस पूरे मामले पर कोई भी हस्तक्षेप नहीं करते हैं राजनैतिक संरक्षण एवं अधिकारियों के संरक्षण की बात कहने से भी ग्रामीण नहीं चूके।

ग्रामीणों ने की लिखित शिकायत

लिखित आवेदन पर हितग्राहियों के द्वारा दिए गए राशि एवं नाम के साथ जिक्र करते हुए रोजगार सहायक का कच्चा चिट्ठा ग्रामीणों ने जिले के जिला कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक के समक्ष प्रस्तुत किया है दर्जनों की संख्या में पहुंचे ग्रामीणों villagers ने रोजगार सहायक अवधेश प्रसाद गर्ग के ऊपर जिस तरह से बात करने के दौरान बातें बताई हैं एवं लिखित आवेदन में संबंधित करतूतों का जिक्र किया है

ऐसे में आवेदन देखकर तो यही प्रतीत होता है कि संबंधित रोजगार सहायक अवधेश प्रसाद गर्ग लगातार क्षेत्र की भोली-भाली जनता के हितों में डाका डालने का काम कर रहे हैं शिकायत पत्र में ग्रामीणों villagers ने यह भी उल्लेखित किया है कि पंचायत के द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों को कागजों पर ही सीमित रखा गया है भले ही कई निर्माण कार्य कागजों पर करा दिए गए परंतु वह सब जमीनी हकीकत से बिल्कुल परे हैं

रोजगार सहायक अवधेश गर्ग के संबंध में ग्रामीण ने जिक्र करते हुए यह भी कहा कि इनके द्वारा न तो किसी भी ग्रामीण का कोई फोन उठाया जाता है और ना तो ग्रामीणों की मदद की जाती है सिर्फ रोजगार सहायक के चहेतों को ही संबंधित सुविधाएं एवं कार्य आसानी से करा दिए जाते हैं

इनका कहना है

संबंधित मामले को लेकर कलेक्टर जिला सिंगरौली राजीव रंजन मीणा के द्वारा कहा गया कि संबंधित शिकायत ग्रामीणों villagers के द्वारा प्राप्त हुई है संबंधित प्रकरण को लेकर जिला पंचायत सीईओ को जांच हेतु निर्देशित किया गया है संबंधित प्रकरण में जांच के उपरांत जो तथ्य निकलकर सामने आएंगे उस पर वैधानिक करवाई की जाएगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here