सिंगरौली। एसडीएम का आदेश तॉक पर, सरकारी जमीन पर बलपूर्वक अतिक्रमण Singrauli.  SDM’s order on talk, forceful encroachment on government land

 

सिंगरौली। जिले की चितरंगी तहसील के कमई नामक गांव में एक सरहंग व्यक्ति द्वारा सरकारी जमीन पर अतिक्रमण करके प्रधानमंत्री आवास बनवाया गया है। मजे की बात यह है कि उक्त आवास उसी गांव के सुरेश कुमार पिता झुलुर केवट के घर के सामने बनाया गया है जिससे सुरेश कुमार के घर की आवाजाही बंद हो गयी है।

जब पीड़ित तहसीलदार न्यायालय में पहुंचा तो वहां उसकी अर्जी सुनी गयी। तहसीलदार न्यायालय से आदेश पारित हुआ कि उक्त विवादित मकान बेदखल किया जाये। तहसीलदार न्यायालय ने संबंधित पुलिस चौकी को भी उक्त निर्देश पारित किया। इसी बीच उक्त विवादित मकान को लेकर राजनीति की गयी।

बताते हैं कि स्थानीय विधायक के दबाव में आकर एसडीएम कार्यालय से तहसीलदार के आदेश को निरस्त करते हुये १५ दिन का स्थगत आदेश पारित किया गया। जब आवेदक ने एसडीएम कार्यालय जाकर आपबीती तथा सच्चाई सुनाई तो एसडीएम ने तत्संबंधी प्रकरण में पुन: आदेश पारित किया जिसमें नायब तहसीलदार वृत्त कोरावल, तहसील चितरंगी को आदेश देकर निर्देशित किया गया की उक्त अतिक्रमण दो दिवस के अंदर हटवाकर पालक प्रतिवेदन पृथक से इस न्यायालय को उपलब्ध कराया जाये।

आदेश के पारित होने के एक १४ दिन के बाद नायब तहसीलदार द्वारा एसडीएम के आदेश की अवहेलना करते हुये आदेश का पालन नहीं किया गया। बताते चलें कि तहसील कार्यालय से असंतुष्ट फरियादी ने जिला कलेक्टर कार्यालय में अपने पीड़ा की गुहार लगायी। कलेक्टर के आश्वासन मिलने के बाद वह न्याय पाने का इंतजार कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here