सिंगरौली:न्यायाधीश के फैसले से पूर्व न्याय मंदिर में हुआ फैसला Singrauli: Before the judge’s decision, the decision was taken in the temple of justice

न्यायालय Court परिसर में दो गुटों के बीच हुआ संघर्ष

सिंगरौली: न्यायालय  Court  में निपानी के लिए अक्सर लोगों को कोर्ट जाते आपने देखा और सुना होगा परंतु सिंगरौली जिले में जिस तरह की तस्वीरें जिला मुख्यालय कि जिला न्यायालय परिसर से निकलकर सामने आई हैं वह बेहद ही चौंकाने वाला है दरअसल शनिवार की दोपहर करीब 2 बजे उस समय न्यायालय परिसर में हड़कम्प मच गया। जब दो पक्ष परिसर में ही जमकर लठ भाजते हुए एक-दूसरे पर पत्थर से हमला कर दिया इस दौरान न्यायालय परिसर को जंग के अखाड़े में तब्दील कर दिया। हालांकि इस दौरान परिसर के अंदर बाहर मौजूद भारी संख्या में लोग बाग तमाशबीन बने रहे।

जाने पूरा मामला

न्यायालय Court परिसर में हुए इस विवाद की चर्चा क्षेत्र में आग की तरह फैल गई एवं चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया क्षेत्र में लोगों का कहना है कि जिस तरह से न्यायालय परिसर में यह संघर्ष हुआ उससे तो सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सवालिया निशान खड़े कर रहे हैं दरअसल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को जिला एवं सत्र न्यायालय Court  बैढऩ में मारपीट के मामले में एक पक्ष जमानत कराने और दूसरा पक्ष जमानत को खारिज कराने के लिए पहुंचे हुए थे। इसी दौरान न्यायालय परिसर के बाहर दोनों पक्ष का आमना सामना हुआ।

जिसमें सवाई लाल पिता बबुआराम बंसल एवं दूसरा पक्ष राम विशाल बंसल पिता सरजू प्रसाद बंसल आमने सामने आये तो कोर्ट परिसर के बाहर गाली-गलौज होने के साथ बहसी-बहसा होने लगी और धीरे-धीरे मामला कोर्ट परिसर के अंदर पहुंचते ही मारपीट तक पहुंच गया। जहां दोनों पक्षों के लोगों ने परिसर के अंदर पड़े लाठी, पत्थर एवं लात-घूसे से एक-दूसरे पर वार करने लगे। इस दौरान सवाईलाल के पक्ष के दो व्यक्ति एवं रामविशाल बंसल के पक्ष का एक व्यक्ति को चोटे आयी हैं।

सूचना मिलने पर घटनास्थल पर पहुंची कोतवाली पुलिस

न्यायालय Court परिसर में हुए मारपीट की घटना की सूचना मिलने के बाद जिला मुख्यालय स्थित कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची ।

कोतवाली थाना प्रभारी अरूण कुमार पाण्डेय तत्काल न्यायालय पहुंच दोनों पक्ष के लोगों को हिरासत में लेते हुए मामले को शांत कराया। हालांकि इस संघर्ष के बीच में चले लाठी-डंडों सहित पत्थरबाजी से एक युवक को सर पर चोटे आई हैं जो कि लहूलुहान अवस्था में न्यायालय Court  परिसर में पड़ा था वहीं घायलों को ईलाज के लिए जिला चिकित्सालय सह ट्रामा सेंटर के लिए रवाना किया गया।

न्यायालय के अंदर-बाहर तमाशबीन बने रहे लोग

जिला एवं सत्र न्यायालय बैढऩ में आज शनिवार की दोपहर तकरीबन 2 बजे जब दो पक्षों में न्यायालय परिसर के बाहर कहा-सुनी हो रही थी उस दौरान न्यायालय परिसर के अंदर एवं बाहर मौजूद लोग तमाशबीन बने रहे। यही कारण है कि मामला इतना ज्यादा बढ़ गया कि न्यायालय परिसर के अंदर ही एक-दूसरे पर लाठी, डण्डे, लात-घूसे व पत्थर से वार करने लगे।

लेकिन इस दौरान परिसर के अंदर एवं बाहर मौजूद लोगों में से किसी ने उन्हें रोकने की हिम्मत नहीं जुटाई। लोग तमाशबीन बनकर एक-दूसरे को लड़ते-झगड़ते देखते रहे। इतना ही नहीं सूत्रों की मानें तो अधिवक्ता कैम्पस में आज तक सीसीटीव्ही कैमरे भी नहीं लगाये गये हैं। अधिवक्ता संघ के उपाध्यक्ष ने कल शुक्रवार को प्रधान न्यायाधीश से मेल मुलाकात कर सीसीटीव्ही कैमरा लगाये जाने का अनुरोध किया था।

दोनों पक्षों के खिलाफ हुआ मामला पंजीबद्ध

न्यायालय Court परिसर में हुई मारपीट की घटना के बाद दोनों पक्षों ने कोतवाली थाना पहुंच उभयपक्षों पर मामला पंजीबद्ध कराया है। जहां फरियादी सवाईलाल की शिकायत पर रामविशाल, रामाधीन, पवन देव, रामाधार एवं रामविशाल बंसल की फरियाद पर राजेन्द्र, सवाईलाल, पन्ने एवं विनोद सभी निवासी माड़ा थाना क्षेत्र के पडऱी खूंटाटोला के खिलाफ पुलिस ने मामला पंजीबद्ध करते हुए भादवि की धारा 294, 323,506,34 के तहत मामला दर्ज कर घटना की विवेचना में जुट गयी है।

न्यायालय Court  परिसर के अंदर जिस तरह से भारी भरकम भीड़ होने के बावजूद दोनों पक्षों के बीच संघर्ष हुआ वह अब चर्चाओं का विषय बन चुका है सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अब लोग सवाल खड़े कर रहे हैं और लोगों की जुबान पर यहां तक कहने से भी नहीं चूक रहे हैं कि जब न्यायालय परिसर में इस तरह की वारदात हो रही है तो ऐसे में कोतवाली क्षेत्र के आसपास के हिस्सों में सुरक्षा व्यवस्था कैसी है इसका अंदाजा बड़ी ही आसानी से लगाया जा सकता है

इनका कहना है

आज शनिवार को तकरीबन दो बजे न्यायालय परिसर के अंदर दो पक्षों में मारपीट की सूचना मिली थी। मौके पर दल-बल के साथ पहुंचकर मामले को शांत कराया। उभयपक्षों ने थाने में एक-दूसरे के खिलाफ मामला पंजीबद्ध कराया है। मामले की विवेचना की जा रही है। घायलों को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय सह ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

अरूण कुमार पाण्डेय

थाना कोतवाली टीआई,बैढऩ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here