सिंगरौली: रोजगार सहायक पर लगा भ्रष्टाचार का आरोप,

 पराई गांव के ग्रामीणों ने डीएम से की शिकायत

सिंगरौली के चितरंगी विकासखंड के पराई गांव के रोजगार सहायक की कारगुजारी सामने आई है जहां रोजगार सहायक मृत व्यक्तियों के जॉब कार्ड में दूसरों का खाता अपलोड कर शासकीय राशि का आहरण किया जा रहा है जिसकी शिकायत ग्रामीणों ने कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंच कलेक्टर से की है

जानें पूरा मामला

दरअसल पूरा मामला चितरंगी विकासखंड के पराई गांव का है जहां ग्राम पंचायत पराई के रोजगार सहायक प्रभात कुमार द्विवेदी के द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत होने वाले कार्यों में व्यापक पैमाने पर भ्रष्टाचार किया जा रहा है जिसकी शिकायत ग्रामीणों ने कलेक्टर से की है ग्रामीणों ने बताया कि जॉब कार्ड में ऐसे व्यक्तियों के खाते अपलोड किए जा रहे हैं जो शासकीय स्कूलों में रेगुलर शिक्षक एवं अतिथि शिक्षक का कार्य कर रहे हैं और हर तरीके से संपन्न व्यक्ति हैं।

पंचायतों में लगातार बढ़ रही है भ्रष्टाचार की शिकायतें

सिंगरौली जिले में रोजगार सहायक व सचिव को लेकर ग्रामीणों ने इस तरह की पहली बार शिकायत नहीं की है इसके पहले भी जिले के कई ग्रामों के रोजगार सहायक एवं सचिव के खिलाफ ग्रामीण लामबंद होकर कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंच कलेक्टर से शिकायत कर चुके हैं लेकिन बार-बार जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिए जाने के बाद कार्रवाई ना होने से कहीं ना कहीं रोजगार सहायक व सचिव का मनोबल बढ़ा हुआ है यही कारण है कि रोजगार सहायक और सचिव अपने क्षेत्रों में मनमानी पर उतारू हैं।

इनका कहना है

मामला संज्ञान में आने के बाद कलेक्टर भी इस बात को मान रहे कि निश्चित ही यह गंभीर मामला है जिसको जिला पंचायत सीईओ को जांच के निर्देश दिए गए हैं जांच रिपोर्ट आने के उपरांत रोजगार सहायक प्रभात कुमार द्विवेदी पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी

राजीव रंजन मीणा कलेक्टर सिंगरौली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here