SINGRAULI:वार्ड नंबर 41 शांति मोहल्ला का, सड़कों पर बह रहा घरों का गंदा पानी

SINGRAULI। नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नंबर 41 शांति मोहल्ला के रहवासियों ने  संवाददाता के समक्ष अपनी व्यथा सुनाते हुए कहा साहब इतनी गंदगी में हम लोग कैसे रहे ? गंदगी होने से मच्छरों का आतंक इतना बढ़ गया है कि घर के अंदर भी रहना मुश्किल हो गया है कई महीनों से नालियों की साफ.-सफाई नहीं कराई गई है। इतना ही नहीं कालोनियां तो बसा दी गई लेकिन नालियां आज तक नहीं बनाई गई लिहाजा लोगों के घरों का गंदा पानी सड़कों पर बह रहा है।

दरअसल नगर निगम के द्वारा करोड़ों रुपए हर वर्ष स्वच्छता अभियान के नाम पर खर्च किया जाता हैं इसके बावजूद भी साफ -सफाई न हो पाना कहीं न कहीं न ननि अमले पर सवालिया निशान खड़ा करता है। नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नंबर 41 कुछ ऐसा ही हाल देखने को मिला।

संवाददाता के पहुंचते ही रहवासियों ने अपनी व्यथा सुनाते हुए कहा कि साहब आप ही देख ले मोहल्ले में कितनी गंदगी है। इस गंदगी में हम लोग कैसे जीवन यापन कर रहे हैं यह हम ही जानते हैं । न तो यहां पर नाली बनाई गई है और न ही कभी साफ -सफाई कराई जाती । कई बार नगर निगम अमले को अवगत भी कराया गया। लेकिन ननि अमला लगातार साफ.-सफाई को लेकर उदासीन बना हुआ है । आलम यह है कि क्षेत्र में व्यापक पैमाने पर गंदगी फैली हुई है। लोगों के घरों का गंदा पानी नाली न बनी होने के कारण सड़कों पर बह रहा है ।

इतना ही नहीं मोहल्ले में गंदगी फैली होने से मच्छरों का प्रकोप भी इतना ज्यादा है कि घर के बाहर तो दूर घर के अंदर भी रह पाना मुश्किल होता जा रहा है । लोगों ने यह भी कहा कि हर वर्ष नगर निगम अमले को स्वच्छता अभियान के नाम पर करोड़ों रुपए शासन से प्राप्त होते हैं और नगर निगम अमला उन्हें खर्च भी करता है । लेकिन बस स्टैंड, मुख्य मार्ग, चौराहों के अलावा कालोनियों की स्थिति जस की तस है ।

कालोनियों में स्वच्छता अभियान के नाम पर केवल खानापूर्ति की जाती है। न कभी दवाइयों का छिड़काव होता, न ही समय से साफ -सफाई, जिसका नतीजा है कि मोहल्लों एवं वार्डो में गंदगी इस तरह फैली हुई है कि लोगों का रहना दूरभर है। रहवासियों ने निगमायुक्त का ध्यान आकृष्ट कराते हुए मोहल्ले की साफ -सफाई कराए जाने का आग्रह किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here