Singrauli: Accident- NH 39 मोरवा में पलटी सवारी बस, डेढ़ दर्जन लोग घायल

(प्रेम एन गुप्ता)

SINGRAULI/मोरवा में रविवार दोपहर निर्माणाधीन सिंगरौली सीधी मुख्य मार्ग पर एक हादसा पेश आया, जहां सवारी से भरी बस निर्माणाधीन सड़क के गड्ढे में जा पलटी।

गनीमत यह रही कि इस हादसे में किसी की जान तो नहीं गई परंतु करीब डेढ़ दर्जन लोग इस हादसे में घायल हुए हैं। जिनका इलाज एनसीएल केंद्रीय चिकित्सालय NCL Central Hospital में जारी है। घटना करीब दोपहर 1:30 बजे की है जब बरगवां से मोरवा आ रही सवारी रंजीत बस क्रमांक MP 66P 0199 मुख्य मार्ग पर बिरला गेट के सामने हादसे का शिकार हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार गड्ढे में गिरने से पूर्व ही चालक वाहन से कूद गया और स्टेरिंग फेल होने की बात बताकर वहां से भाग खड़ा हुआ। सवारी बस निर्माणाधीन गड्ढे में खड़ी कैंपर क्रमांक MP 66G 2568 पर गिरी, जिसमें मेन रोड के मिस्त्री कार्य कर रहे थे। इस हादसे में उन्हें भी चोटें आई पर उनकी जान बच गई। जिसके बाद घटनास्थल पर चीख-पुकार मच गई।

स्थानीय लोगों द्वारा इसकी सूचना मोरवा निरीक्षक को दी गई जिसके फौरन बाद निरीक्षक यू पी सिंह घटनास्थल पर पहुंच गए उन्होंने बस में फंसे यात्रियों को बाहर निकालने के साथ घायलों को बिना विलंब किए अपने वाहन से अस्पताल भिजवाना शुरू किया। वही सूचना मिलने पर पहुंचे एसडीओपी राजीव पाठक ने एंबुलेंस की व्यवस्था करके कईयों को इलाज हेतु केंद्रीय चिकित्सालय भिजवाया इस घटना में कुल 17 लोग घायल हुए हैं।

बस हादसे में यह हुए घायल

छठ की शाम से ठीक पूर्व मोरवा में हुई इस घटना में तारा साहू पत्नी अनीश साहू निवासी गोरबी, सुनीता साहू पत्नी मायाराम साहू निवासी गोंदवाली, रामकली देवी पत्नी वृंदावन साकेत निवासी सोलन, अनीता साकेत पत्नी राजेश्वर साकेत निवासी बैढ़न, रामदयाल विश्वकर्मा पिता रामबरन निवासी बहरी, अनीता पनिका पत्नी संजय पनिका निवासी भोडार, श्यामवती पत्नी योगेंद्र बैस निवासी गोरबी, चंचा पत्नी पाखुन्द निवासी रेलवे स्टेशन,

अंबर केवट पिता जमुना केवट निवासी पतेरी, सुधीर राय पिता सुरेंद्र राय निवासी जगमोरवा, देवासी साहू पत्नी कैलाश साहू निवासी पड़री, गुलरी देवी पत्नी दयाराम साकेत निवासी बड़ोखर, मुनिया साकेत पत्नी कांति प्रसाद साकेत निवासी सोलन, रंजू पत्नी छोटे लाल कोल निवासी गोरबी, मानमती गुर्जर पत्नी जय प्रताप गुर्जर निवासी जियावन समेत कैंपर में कार्य कर रहे इस्तकार मिस्त्री एवं उनका कर्मी रोहित गोड़ भी घायल हुआ है। इनमें घायल मानमती गुर्जर की स्थिति गंभीर देखते हुए उसे ट्रॉमा सेंटर बैढ़न के लिए रेफर कर दिया गया है।

सांसद, विधायकों ने अस्पताल पहुंचकर घायलों का जाना हाल

इधर छठ पर्व को लेकर मोरवा पहुंची सांसद रीति पाठक समेत सिंगरौली विधायक रामलल्लू वैश्य एवं चितरंगी विधायक अमर सिंह को घटना की सूचना मिली तो सभी घायलों का हाल जानने अस्पताल जा पहुंचे। जहां उन्होंने सभी घायलों को सांत्वना देते हुए बेहतर इलाज का भरोसा दिलाया।

निर्माणाधीन मुख्य मार्ग पर आए दिन होते हैं हादसे, प्रशासन नहीं दिखता गंभीर

सिंगरौली सीधी मुख्य मार्ग के निर्माण को करीब एक दशक बीत चुके हैं परंतु हालात जस के तस बने हुए हैं। आए दिन लोगों के हंगामे के बाद प्रशासन द्वारा बैठकों का दौर होता है और आश्वासन का लॉलीपॉप थमा कर जनता के आक्रोश को शांत करा दिया गया था और फिर एक बार नए हादसे का इंतजार होता है।

बीते कई वर्षों से तो यही हो रहा है। सिंगरौली कलेक्टर द्वारा पूर्व में भी निर्माणाधीन मार्ग पर हादसों को लेकर निर्माण कंपनी को जिम्मेदार ठैरने की बात कही गई थी जो अभी तक सिर्फ बात ही नजर आती है। इस मार्ग को 2018 से काट कर छोड़ा गया है जो अभी भी जस का तस पड़ा है और आए दिन लोग इस मार्ग पर हादसे का शिकार हो रहे हैं जिसे यहां से जनता में रोष व्याप्त है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here