SINGRAULI:आस्था के महापर्व पर घाटों में दिखी गजब की रौनक

व्रती महिलाओं ने अस्ताचलगामी सूर्य को पहला अर्घ्य दिया

भीड़ को व्यवस्थित करने में जुटी रही मोरवा पुलिस

SINGRAULI:मोरवा में रविवार दोपहर से ही सड़कों से लेकर घाटों तक गजब का नजारा दिखा। हर तरफ पारंपरिक छठ गीत रास्तों से लेकर घाटों तक गूंजते रहे। अवसर था सूर्य की उपासना के महापर्व छठ का।

रविवार को छठ पूजा के तीसरे दिन पूरे देश भर में धूमधाम से व्रती लोगों ने नदियों एवं घाटों में उतर कर डूबते हुए सूर्य को अर्ध्य दिया। मोरवा में भी इसकी खासी रौनक दिखी। मोरवा छठ घाट, एनसीएल कालोनी में बने घाट, रेलवे स्टेशन के समीप बने घाट व झिगुरदा घाट में स्थानीय लोगों ने छठ पर्व पर डूबते हुए सूर्य को अर्ध्य देकर अपने पुत्र की दीर्घायु और परिवार की सुख समृद्धि की कामना की। इस अवसर को देखने के लिए भी हज़ारों की संख्या में स्थानीय लोगों और श्रद्धालुओं का हुजूम छट घाटों पर उमड़ा दिखा।

कल खरना का प्रसाद चढ़ा और उसे खाकर व्रती महिलाओं ने 36 घंटे का निर्जला व्रत शुरू किया था। इसी क्रम में आज तीसरे दिन महिलाओं ने छठ घाट पहुंचकर डूबते हुए सूरज को पहला अर्घ्य दिया एवं कल सुबह उगते हुए सूरज को अर्ध्य देकर व्रती महिलायें अपना व्रत समाप्त करेंगी। रविवार को मुहल्लों से लेकर घाटों तक छठ पूजा के पारंपरिक व कर्णप्रिय गीत गूंज रहे।

व्यवस्था में डटे रहे पुलिस कर्मी

लोकप्रिय त्यौहार छठ पूजा में उमड़ने वाली भीड़ के मद्देनजर मोरवा छठ घाट पर अनुविभागीय अधिकारी राजीव पाठक एवं मोरवा नगर निरीक्षक यू पी सिंह थाने के बल के साथ यातायात व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए चक्रमई भ्रमण करते रहे।

इसके अलावा अन्य घाटों पर भी पुलिस एवं जिला प्रशासन द्वारा व्यवस्था दुरुस्त रखने हेतु खास इंतजाम किए गए थे। मोरवा के घाटों का निरीक्षण तहसीलदार दिवाकर सिंह कर रहे थे। वहीं मोरवा थाना के पुलिस अधिकारी सभी छठ घाटों का दौरा कर स्थिति का जायजा लेते दिखे। व्रती लोगों को घाटों तक सुगम रास्तों से पहुंचाने के लिए जगह-जगह बैरिगेटिंग की गई थी। किसी प्रकार के दुर्घटना से बचाने के लिए छठ घाट पर संतोष सोनी बोट पर तैनात थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here