Adani Foundation   :महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने हेतु अदाणी फाउंडेशन द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम

Adani Foundation सिंगरौली, माडा तहसील अन्तर्गत करसुआलाल गांव में महान इनर्जेन लिमिटेड के सहयोग से अदाणी फाउंडेशन द्वारा मंगलवार को स्थानीय महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से धूपबत्ती, अगरबत्ती एवं संब्रानी कप बनाने का प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया गया।

Adani Foundation  अदाणी फाउंडेशन के सामाजिक दायित्व विभाग के रीजनल हेड  जयंत मोहंती ने फीता काटकर तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत की। इस मौके पर अदाणी फाउंडेशन के महान प्रोजेक्ट के कार्यक्रम प्रबंधक मनोज प्रभाकर और ग्राम कर्सुआलाल के सरपंच प्रतिनिधि अंजनी प्रजापति भी उपस्थित थे।

कुल 35 स्थानीय महिलाओं ने इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस दौरान प्रशिक्षण ले रहे महिलाओं को निपुणता के साथ बनाए जा रहे उत्पाद की गुणवत्ता एवं एकजुट होकर व्यवसाय के रूप में इसे विकसित करने के लिए प्रेरित किया गया।

अदाणी फाउंडेशन द्वारा स्थानीय जरूरतमंद महिलाओं का कौशल विकास कर उनको रोजगार से जोड़ने और उन्हें स्वाबलम्बी बनाने के उद्देश्य से यह प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कार्यक्रम के दौरान सभा को संबोधित करते हुए अदाणी फाउंडेशन के अधिकारी जयंत मोहंती ने कहा कि, “धूपबत्ती, अगरबत्ती एवं संबंधित उत्पाद के उत्पादन से ज्यादा जरूरी है

ग्रामीण महिलाओं के उसके उत्पाद को बाजार तक पहुंचाना एवं उचित मूल्य दिलाना। उन्होंने कहा जब हर महिला रोजगार से जुड़ेंगी तो उससे उनकी आय बढ़ेगी और वह अपने परिवार की जरूरतों को पूरा करने में मददगार साबित होंगी।

जब तक उनकी प्रतिदिन की आमदनी सुनिश्चित नहीं होती तब तक किसी भी रोजगार प्रशिक्षण को सफल नहीं माना जायेगा।” अदाणी फाउंडेशन  Adani Foundation   के द्वारा उत्पादों की उचित मूल्य पर बिक्री के लिए मार्केटिंग के संबंध में भी बताया जाएगा।

तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान महिलाओं को धूपबत्ती, अगरबत्ती एवं संब्रानी कप बनाने का गुर सिखाया जायेगा।

महिलाओं को जागरूक करने व आत्मनिर्भर बनाने के मकसद से चलाये जा रहे इस कार्यक्रम का संचालन अदाणी फाउंडेशन Adani Foundation के ऋषभ पांडेय एवं ग्राम कार्यकर्ता श्यामदास जायसवाल, कमलेश कुमारी एवं सत्यकुमारी जायसवाल के देखरेख में कराया जा रहा है।

प्रशिक्षण देने का कार्य कुशल प्रशिक्षक अमरनाथ गुप्ता के सहयोग से कराया जा रहा है। सभी ग्रामीण महिलाएं इस प्रशिक्षण कार्यक्रम से खुश हैं। स्थानीय ग्रामीणों ने अदानी फाउंडेशन के इस प्रकार के सामाजिक विकास कार्यक्रमों की काफी सराहना की है। उनका मानना है

कि इस प्रकार के प्रशिक्षण से जहां स्थानीय महिलाओं को रोजगार मिलेगा और उनकी आमदनी से परिवार में खुशहाली आएगी वहीं स्थानीय युवा भी सामाजिक विकास के लिए आगे आने के लिए प्रेरित होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here