मुझे याद है कि मेरी एक फ्रेंड ने बालों पर किसी मिलावटी सामान का DIY Hacks के रूप में इस्तेमाल कर लिया था, तो उसके बाल रूखे और बेजान हो गये। इसलिय जब हेयर हेल्थ की बात आये, तो किसी भी प्रकार के प्रोडक्ट की गुणवत्ता से कभी समझौता नहीं करना चाहिए। चाहे वे प्राकृतिक चीजें ही क्यों नहीं हों। बालों के लिए अखरोट या अखरोट तेल का इस्तेमाल कर रही हैं, तो वे मिलावटी या बहुत पुराने नहीं होने चाहिए। इससे बालों के खराब होने का डर रहता है। यदि अच्छी क्वालिटी के अखरोट के तेल का इस्तेमाल किया जाता है, तो बाल मजबूत और चमकदार होंगे। अखरोट के तेल का बालों और स्कैल्प पर किस तरह प्रयोग किया जाए, इसके लिए हमने बात की हिल्स हेयर एंड स्किन केयर की ओनर राखी मल्होत्रा से।

अखरोट का वर्जिन ऑयल है सबसे बढ़िया

राखी मल्होत्रा बताती हैं, जिस तरह अखरोट शरीर की कार्यप्रणाली के लिए फायदेमंद है, उसी तरह यह बालों के लिए भी फायदेमंद है। अखरोट के तेल को बालों पर लगाने से पहले कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए।

बालों पर हमेशा शुद्ध और कोल्ड प्रेस्ड अखरोट के तेल का प्रयोग करना चाहिए। हमलोग आमतौर पर तेल का इस्तेमाल स्कैल्प की मालिश के लिए करते हैं। वहीं यदि किसी घरेलू उपचार का बालों पर प्रयोग करना होता है,  तो उस समय भी अखरोट के तेल का इस्तेमाल किया जाता है।  दोनों स्थितियों में शुद्ध वालनट आयल का प्रयोग करना जरूरी होता है। वास्तव में इसके लिए वर्जिन आयल बेस्ट होता है। वर्जिन आयल बनने के दौरान तेल बहुत अधिक हीटिंग प्रोसेस से नहीं गुजरता है। इसमें किसी प्रकार की मिलावट भी नहीं होती है। इसलिए यह फायदेमंद है

बालों की सेहत के लिए फायदेमंद है अखरोट का तेल

1 इसमें पोटैशियम, मैगनीशियम जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। ये सेल- रीजेनरेशन में मदद करते हैं। इसमें कई तरह के विटामिन जैसे कि विटामिन ए, विटामिन इ, विटामिन डी मौजूद होते हैं। ये बालों को संपूर्ण पोषण देते हैं।

2 अखरोट के तेल में ओमेगा 3 फैटी एसिड बहुत अधिक मात्रा में होता है। इसकी मेडिसिनल प्रॉपर्टीज के कारण इसका प्रयोग शरीर के सभी अंगों पर किया जाता है। इसलिए स्किन और बालों पर भी प्रयोग किया जाता है।

3 एंटी बैकटीरिअल, एंटी फंगल और एंटी इन्फ्लामेट्री गुण वालनट आयल को स्कैल्प और बालों के लिए लाभकारी बनाते हैं।

walnut ke fayde
एंटी बैकटीरिअल, एंटी फंगल और एंटी इन्फ्लामेट्री गुण वाला होता है वालनट  और उसका आयल । चित्र : शटरस्टॉक

4 एंटी ओक्सीडेंट  गुण सेल डैमेज को रोकते हैं। इससे बाल लंबे और घने हो पाते हैं।

कैसे करें प्रयोग

बालों को अच्छी तरह धो लें।

जब बाल सूख जाएं, तो उगलियों के पोरों में लगाकर स्कैल्प की हलके हाथों से मालिश करें।

इसमें नींबू के कुछ बूंद मिलाकर भी बालों पर अप्लाई कर सकती हैं। डैनड्रफ की समस्या में यह कारगर होगा।

सप्ताह में एक दिन वालनट आयल से स्कैल्प और बालों की मालिश कर सकती हैं।

घर पर तैयार कर सकती हैं वालनट आयल

यदि आप चाहें तो इसे घर पर भी बना सकती हैं।

1पानी को उबाल लें

सबसे पहले पानी को उबाल लें।

उबलते हुए पानी में 15-20 अखरोट डाल दें।

2 उबलने दें 10 मिनट तक

इसे मध्यम आंच पर 10 मिनट तक उबलने दें।

पानी को ठंडा होने दें। अखरोट निकाल लें।

छिलके उतार लें।

3 पाउडर बना लें

अखरोट को मिक्सी में पीस लें। पाउडर बना लें।

इस पाउडर को वेजिटेबल आयल में मिला लें।

4 तेल को छान लें

जब तेल का रंग बदल जाए, तो तेल को पतली छननी या कॉटन के कपड़े से छान लें।

akhrot tel ke fayade
अखरोट के तेल में अल्फालोनिक एसिड नामक ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है।  तेल को घर पर भी तैयार किया जा सकता है चित्र : शटरस्टॉक

इसे बालों पर लगायें।

5 नियमित रूप से लगायें

बाल धोने के 3-4 घंटे पहले इसे लगा लें। यदि नियमित रूप से सप्ताह में दो दिन भी इसका उपयोग करती हैं, तो फर्क साफ़ दिखेगा।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here