बलिया ब्यूरो अनिल सिंह

बलिया – हल्दी थाना क्षेत्र के स्थानीय काली मंदिर के समीप से पुलिस ने रविवार की सुबह एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। जो क्षेत्र के गंगा पार ड्रेजिंग कार्य कर रहे कर्मचारियों को मारपीट कर घायल करने तथा लूटपाट करने वाले बिहार के गिरोह में शामिल था।वह 25 हजार का इनामिया बताया जा रहा है।जो तमंचे व मोबाइल के साथ गिरफ्तार किया गया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार हल्दी थाना क्षेत्र के गंगा पार पचरुखिया मौजे में ड्रेजिंग कार्य करा रही कंपनी की साइट पर 7 जून की देर रात दर्जनभर असलहाधारी बदमाशों ने लूट पाट किया था। तहरीर मिलने के बाद हल्दी पुलिस ने मु.अ.सं. 56/2020 के तहत धारा 395,412 आईपीसी का अपराध दर्ज किया था।रविवार की सुबह 5:50 बजे हल्दी पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि डकैती के आरोपी हल्दी काली मंदिर होते हुए कही जा रहा है।थानाध्यक्ष हल्दी सत्येन्द्र कुमार राय व उपनिरीक्षक राघवराम यादव ने अन्य हमराहियों के साथ तुरंत हल्दी काली मंदिर पहुंच कर मंदिर के पीछे छिप गए। मुखबिर के बताए स्थान के करीब ही एक व्यक्ति दिखाई दिया और पुलिस को देखते ही भागने लगा। पुलिस ने दौड़ाकर पकड़ लिया।पुलिस ने उसकी तलाशी ली। जिसमें उसके पास से देसी तमंचा व दो जिंदा कारतूस 315 बोर तथा डकैती के 320 रुपये नगद व डकैती का रेडमी कंपनी का मोबाईल मिला ।पकड़े गए अभियुक्त ने बताया कि रामगढ़ में हुई डकैती में शामिल था।वह अपना नाम सुदर्शन यादव पुत्र पोछन यादव निवासी पचकौड़ी के डेरा थाना शाहपुर,जिला आरा (भोजपुर),बिहार बताया। थानाध्यक्ष सत्येन्द्र कुमार राय ने बताया कि पकड़ा गया अभियुक्त सुदर्शन की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधिक्षक बलिया द्वारा 25 हजार का इनाम की घोषणा की गई थी।अभियुक्त अंतरराज्यीय डकैत है।जिसका एक गिरोह है। इसके गिरोह के सदस्यों के विरुद्ध लूट व हत्या जैसे अपराधों से सम्बंधित कई मुकदमे है।अभी कुछ लोग गिरफ्त से बाहर है।दबिश दी जा रही है।जल्द ही उन्हें भी पकड़ लिया जाएगा।पुलिस ने पकड़े गए अभियुक्त को मु0 आ0 सं0 76/2020 धारा 3/25 आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत कर न्यायालय भेज दिया।पुलिस टीम में थानाध्यक्ष हल्दी तथा उप निरीक्षक के साथ कांस्टेबल अरविंद यादव,कांस्टेबल सतीश यादव व दुर्ग विजय यादव आदि रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here