देश में तेजी से फैलने जा रही बेरोजगारी को देखते हुए केंद्र सरकार की तरफ से कई तरह की योजनाए लागू की गई है जिसे गज्य की सरकारें भी इस योजनाओं को आगे बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है। इन्ही योजनाओं में से एक है बेरोजगारी भत्ता योजना को माना जाता है। ये योजनाएं हर वर्ग के लोगों के लिए जैसे बुजुर्ग, पुरुष, महिला, बच्चे और युवा आदि सभी को लेकर मौजूद होती है।

ऐसे ही राजस्थान सरकार की ओर से भी बेरोजगार युवाओं की मदद करने को लेकर राजस्थान बेरोजगारी भत्ता योजना की शुरूआत किया है। इस योजना के तहत राजस्थान की गहलोत सरकार ने बेरोजगार युवाओं को प्रति माह 4000 रुपये और लड़कियों को 4500 प्रतिमाह देने का फैसला किया जा चुका है। आइए जानते है इस योजना के बारे में जान लेते हैं विस्तार से-

राजस्थान बेरोजगारी भत्ता योजना को लेकर क्या है पात्रता

  • राजस्थान बेरोजगारी भत्ता का फायदा यदि आपभी लेना चाह रहे हैं तो इसके लिए आपको राजस्थान का मूल निवासी होना अहम होता है।
  • बेरोजगारी भत्ता का फायदा आपको मिल सके इसके लिए युवा वर्ग की उम्र 30 वर्ष और महिलाओं के लिए 35 वर्ष रखा जा चुका है।
  • इसके अलावा युवाओ को किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन पास होना अहम होता है।
  • बेरोजगार उम्मीदवार की पारिवारिक वार्षिक आय दो लाख से कम होना जरुरी होता है।
  • इसके अलावा उन्हें किसी भी तरह का रोजगार नहीं मिलता है।
  • राजस्थान बेरोजगारी भत्ता के लिए जरूरी अहम बाते।
  • आधार कार्ड,पहचान पत्र,खुद का आय प्रमाण पत्र,मूल निवासी प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • जन आधार कार्ड,एसएसओ आईडी मान्य,आधार लिंक मोबाइल नंबर,पासपोर्ट साइज फोटो,10वीं और 12वीं की मार्कशीट,ग्रेजुएशन मार्कशीट होता है।

राजस्थान बेरोजगारी भत्ता के लिए आय प्रमाण पत्र होता है अहम

राजस्थान बेरोजगारी भत्ता 2022 का लाभ पाने को लेकर युवाओं के पास राजस्थान बेरोजगारी भत्ता 2021 का आय प्रमाण पत्र बनाना आवश्यक माना जाता है। आय प्रमाण पत्र दो प्रकार से बनाया जा रहा है, यहां हम आपको बता रहे हैं कि किस व्यक्ति के लिए कौन सा प्रमाण पत्र बनाया जाता है, राजस्थान बेरोजगारी भत्ता 2021 पुरुष उम्मीदवारों को लेकर उनके पिता के नाम से आय प्रमाण पत्र बनाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here