New Delhi: डिजिटलाइजेशन के दौर में आज हर व्यक्ति 1 रूपये से लेकर लाखों के पेमेंट यूपीआई के माध्यम से करता है। इसी क्रम में अब सरकार क्रेडिट कार्ड से भी यूपीआई पेमेंट की सुविधा कुछ महीनों में शुरू करने वाली है। इसके लिए सरकार रुपे क्रेडिट कार्ड लांच करने की तैयारी में है। नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया के एमडी व सीईओ दिलीप एस्‍बे ने बताया कि यूपीआई से लिंक रुपे कार्ड के जरिए भुगतान की सुविधा अगले 1 से 2 महीने में शुरू हो जाएगी।

इसके लिए बैंक ऑफ बड़ौदा, एक्सिस बैंक, एसबीआई कार्ड और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया से बातचीत चल रही है। उन्होंने बताया कि वे 10 दिन के अंदर रिजर्व बैंक के पास इसका प्रस्ताव भेजेंगे। एक बार रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया मंजूरी दे, तो अगले 2 महीने के भीतर इस सुविधा को शुरू कर दिया जाएगा।

बता दें रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास 8 जून को कह चुके है कि क्रेडिट कार्ड को भी यूपीआई से जोड़े जाने की मंजूरी जल्द दी जाएगी। हालांकि यह सुविधा सिर्फ देसी क्रेडिट कार्ड यानी रुपे क्रेडिट कार्ड के जरिए ही दी जाएगी। वर्तमान में उपभोक्ता केवल डेबिट कार्ड के जरिए ही यूपीआई भुगतान कर पाते है। अभी ग्राहक डेबिट कार्ड के जरिए उनके बचत या चालू खाते से ही यूपीआई ट्रांजैक्शन कर पाते है। यदि यह सुविधा रुपे क्रेडिट कार्ड से भी मिलने लगेगी तो ना केवल उपभोक्ताओं की सहूलियत बढ़ जाएगी बल्कि डिजिटल भुगतान को भी बढ़ावा मिलेगा।

एमडीआर पर फ़स सकता है पेंच

रुपे क्रेडिट कार्ड लांच करने में सबसे बड़ी अड़चन मर्चेंट डिस्काउंट रेट यानी एमडीआर को लेकर आएगी। अभी यूपीआई पर शून्य एमडीआर लगता है। ऐसे में देखना होगा कि आरबीआई और एनपीसीआई क्रेडिट कार्ड के जरिए यूपीआई भुगतान पर एमडीआर कैसे और कितना लागू करते है।

हालांकि इस सवाल पर नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया के एमडी दिलीप ने कहा कि एनपीसीआई छोटे दुकानदारों के हितों की रक्षा के लिए हमेशा तैयार है और एमडीआर को लेकर क्रेडिट कार्ड पर मौजूदा भुगतान आगे भी जारी रह सकता है

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here