PM Kusum Yojana: हमारे देश की अर्थव्यवस्था का एक बड़ा भाग कृषि क्षेत्र पर आधारित है। खेती किसानी करते समय किसानों को कई तरह की आर्थिक दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। देश में आज भी कई किसान डीजल से चलने वाले इंजनों का उपयोग खेतों की सिंचाई करने के लिए करते हैं। वहीं आज की इस महंगाई के दौर में डीजल और पेट्रोल के दाम जिस तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में खेतों की सिंचाई करने में किसानों की एक बड़ी राशि डीजल को खरीदने में खर्च हो जाती है। किसानों की इसी समस्या को देखते हुए भारत सरकार एक बेहद ही महत्वाकांक्षी योजना का संचालन कर रही है। इस स्कीम का नाम प्रधानमंत्री कुसुम योजना है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को 60 प्रतिशत की सब्सिडी पर सोलर पंप दिया जा रहा है। इसी कड़ी में आइए जानते हैं प्रधानमंत्री कुसुम योजना के बारे में विस्तार से –

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के अंतर्गत किसानों और सरकारी समितियों को नया सोलर पंप लगाने पर 60 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जा रही है। इसमें केंद्र और राज्य सरकारें 30-30 प्रतिशत की सब्सिडी किसानों को दे रही हैं।

वहीं 30 प्रतिशत राशि का लोन किसानों को बैंक के जरिए दिया जा रहा है। इस योजना में सौर पंप वितरण, सौर ऊर्जा कारखाने का निर्माण, ट्यूबवेल का निर्माण और वर्तमान पंपों का आधुनिकीकरण जैसे चार कंपोनेंट शामिल हैं।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना का लाभ उठाकर किसान बेहद कम कीमत पर अपने खेतों में सोलर पंप को लगवा सकते हैं। पीएम कुसुम योजना में आवेदन करने से पहले आपको कुछ बातों के बारे में जानना जरूरी है।

इस स्कीम का लाभ किसान, किसानों का समूह, किसान उत्पादक संगठन, पंचायत, एएफपीओ, पंचायत, सहकारिता, जल उपयोगकर्ता यूनीट उठा सकते हैं। आप प्रधानमंत्री कुसुम योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करके इस स्कीम में आवेदन कर सकते हैं।

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here