PM Kisan Samman Nidhi Yojana: किसानों के भविष्य को सुरक्षित और उनको आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए भारत सरकार विभिन्न योजनाओं का संचालन कर रही है। इन योजनाओं का उद्देश्य खेती किसानी करते समय किसानों के समक्ष आने वाली आर्थिक दिक्कतों को दूर करना है। इसी कड़ी में भारत सरकार ने साल 2018 में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार आर्थिक रूप से कमजोर किसानों को हर साल तीन किस्त के रूप में 6 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान कर रही है। योजना के तहत हर साल दो-दो हजार रुपये की तीन किस्त किसानों के खाते में ट्रांसफर की जाती है। अब तक किसानों के खाते में कुल 12 किस्त के पैसों को भेजा जा चुका है। अगर आप भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठा रहे हैं। ऐसे में ये खबर खास आपके लिए है। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से –

आज हम आपको उन जरूरी कामों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें आपको जल्द से जल्द करा लेना चाहिए। अगर आप इन कामों को नहीं कराते हैं। ऐसे में आपको इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

इस बार कई किसानों को ई-केवाईसी न कराने और भूलेख सत्यापनों की वजह से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 12वीं किस्त का लाभ नहीं मिला है। ऐसे में सरकार गलत ढंग से योजना का लाभ ले रहे अपात्र किसानों के प्रति काफी सख्त है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के नियम पहले के मुकाबले काफी सख्त कर दिए गए हैं। ऐसे में अगर आप योजना में राशन कार्ड की कॉपी को जमा नहीं कराते हैं। इस स्थिति में आपको प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ नहीं मिलेगा। आप पीएम किसान पोर्टल पर विजिट करके अपने राशन कार्ड की सॉफ्ट कॉपी को अपलोड कर सकते हैं।

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here