छिंदवाड़ा,  शादी वाले घर में सब तरफ खुशियां छाई हुई थीं। शादी कार्यक्रम की तैयारियां चल रही थीं। बेटी की शुक्रवार को धूमधाम से शादी होने जा रही थी। तभी अचानक कुछ ऐसा हुआ कि खुशियां मातम में बदल गईं। नाश्ता करने के दौरान खाने का निवाला गले में फंस गया। 

इससे उसे जोरदार ठसका लगा और खांसते-खांसते कुछ ही पलों में उसकी हालत काफी बिगड़ गई। परिजन उसे लेकर तुरंत अस्‍पताल पहुंचे, लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। मामला छिंदवाड़ा के पश्चिम बुधवारी बाजार का है। यहां रहने वाले काले परिवार में मेघा काले की शादी थी, लेकिन ठसका लगने से उसकी मौत हो गई।

एसडीओपी संतोष डेहरिया के मुताबिक बुधवारी बाजार में रहने वाले प्रमोद महादेवराव काले की बेटी मेघा का 20 मई को शहनाई लान से विवाह होने जा रहा था। इसी बीच शादी की रस्म के दौरान मेघा ढोकले का नाश्ता कर रही थी। तभी अचानक ढोकले का एक टुकड़ा निगलने के दौरान उसकी श्‍वास नली में अटक गया। इससे उसे ठसका लग गया, जिसके बाद वह काफी देर तक खांसती रही।

मौके पर मौजूद परिजनों ने उसे पानी पिलाया, लेकिन उसकी हालत और बिगड़ती गई। परिजन तत्काल उसे लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचे, जहां उसकी मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मौके से नाश्ते के सैंपल ले लिए गए हैं, जिसे एसएफएल जांच के लिए भेजा गया है।

मेघा काले की प्राथमिक शिक्षा छिंदवाड़ा के केंद्रीय विद्यालय और उच्च् शिक्षा नासिक एवं बांबे में हुई थी। छिंदवाड़ा के शहनाई लान से 20 मई को उसकी शादी होने वाली थी। पूरा परिवार उसकी शादी की तैयारियों में जुटा था। ऐसे में गुरूवार को शादी कार्यक्रम से पहले हुए इस दर्दनाक हादसे ने पूरे परिवार को शोक में डुबो दिया। मुंबई में ही मेघा काले अपनी सेवाएं दे रही थी।

छिंदवाड़ा, नवदुनिया प्रतिनिधि। शादी वाले घर में सब तरफ खुशियां छाई हुई थीं। शादी कार्यक्रम की तैयारियां चल रही थीं। बेटी की शुक्रवार को धूमधाम से शादी होने जा रही थी। तभी अचानक कुछ ऐसा हुआ कि खुशियां मातम में बदल गईं। नाश्ता करने के दौरान खाने का निवाला गले में फंस गया।

इससे उसे जोरदार ठसका लगा और खांसते-खांसते कुछ ही पलों में उसकी हालत काफी बिगड़ गई। परिजन उसे लेकर तुरंत अस्‍पताल पहुंचे, लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। मामला छिंदवाड़ा के पश्चिम बुधवारी बाजार का है। यहां रहने वाले काले परिवार में मेघा काले की शादी थी, लेकिन ठसका लगने से उसकी मौत हो गई।

एसडीओपी संतोष डेहरिया के मुताबिक बुधवारी बाजार में रहने वाले प्रमोद महादेवराव काले की बेटी मेघा का 20 मई को शहनाई लान से विवाह होने जा रहा था। इसी बीच शादी की रस्म के दौरान मेघा ढोकले का नाश्ता कर रही थी। तभी अचानक ढोकले का एक टुकड़ा निगलने के दौरान उसकी श्‍वास नली में अटक गया।

इससे उसे ठसका लग गया, जिसके बाद वह काफी देर तक खांसती रही। मौके पर मौजूद परिजनों ने उसे पानी पिलाया, लेकिन उसकी हालत और बिगड़ती गई। परिजन तत्काल उसे लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचे, जहां उसकी मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मौके से नाश्ते के सैंपल ले लिए गए हैं, जिसे एसएफएल जांच के लिए भेजा गया है।

मेघा काले की प्राथमिक शिक्षा छिंदवाड़ा के केंद्रीय विद्यालय और उच्च् शिक्षा नासिक एवं बांबे में हुई थी। छिंदवाड़ा के शहनाई लान से 20 मई को उसकी शादी होने वाली थी। पूरा परिवार उसकी शादी की तैयारियों में जुटा था। ऐसे में गुरूवार को शादी कार्यक्रम से पहले हुए इस दर्दनाक हादसे ने पूरे परिवार को शोक में डुबो दिया। मुंबई में ही मेघा काले अपनी सेवाएं दे रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here