MP: ग्वालियर, मुरैना से पांच लाेग ग्वालियर के सिराेली गांव में फलदान कार्यक्रम में शामिल हाेने के लिए आए थे। वह बड़ा गांव हाइवे पर विक्रांत कालेज के पास पहुंचकर वाहन का इंतजार कर रहे थे। इसी दाैरान एक तेज रफ्तार चार पहिया वाहन ने टक्कर मार दी। इस हादसे में पांच लाेगाें की घटनास्थल पर ही माैत हाे गई। जबकि दाे लाेग घायल हैं। घटना के बाद गुस्साए लाेगाें ने सड़क पर चक्काजाम कर दिया। मामले की जानकारी लगने पर पुलिस भी माैके पर पहुंच गई।

मुरैना उत्तमपुरा निवासी राजाबेटी पत्नी राजाराम उम्र 40 साल, अपनी सास राजाबेटी, पप्पू निवासी डाेंगरपुर अपनी दाे भतीजी पूनम उम्र 3 साल और ऋचा उम्र 8 साल के साथ बीते राेज ग्वालियर आए थे। यहां वह सिराेली गांव में बेताल सिंह के भतीजे पपलेश पुत्र रामअवतार के फलदान कार्यक्रम में शामिल हाेने के लिए आए थे। बुधवार की रात काे कार्यक्रम में शामिल हाेने के बाद आज यह सभी लाेग वापस मुरैना लाैट रहे थे। गांव से पैदल-पैदल बड़ा गांव हाइवे पर विक्रांत कालेज के पास तक पहुंचे थे।

यहां पर वह सड़क किनारे बैठकर किसी वाहन के आने का इंतजार कर रहे थे। इसी दाैरान एक तेज रफ्तार सफेद रंग का वाहन आया और इन सभी काे कुचलता हुआ निकल गया। वाहन की टक्कर लगने से सुरेश खरे और एक अन्य दूर झाड़ियाें में जा गिरे, जबकि राजाबेटी उसकी सास, पप्पू और उसकी दाेनाें भतिजियाें की इस हादसे में घटनास्थल पर ही माैत हाे गई। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस एवं सिराेली गांव से रिश्तेदार भी पहुंच गए। पुलिस शव उठाकर पीएम के लिए पहुंचाती इससे पहले ही स्वजनाें ने हंगामा शुरू कर दिया।

सड़क पर लगाया जामः गुस्साई भीड़ में से कुछ लाेग बड़ा गांव हाइवे पर सड़क पर लेट गए। बाद में यहां पर झाड़ियां एवं वाहन लगाकर लाेगाें ने चक्काजाम कर दिया। पुलिस भी मूक दर्शक बनी केवल तमाशा देखती रही। उधर जाम के कारण हाइवे पर वाहनाें की लंबी कतार लग गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here