सिटी सेंटर इलाके में एक स्मैक तस्कर को क्राइम ब्रांच और यूनिवर्सिटी थाना पुलिस ने पकड़ा है। तस्कर के पास से करीब 42 ग्राम स्मैक बरामद हुई है। जिसकी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत 4.20 लाख रुपए बताई गई है।

पुलिस ने जब उससे पूछताछ की तो उसने बताया कि उसे एक बाबा ने स्मैक बेची थी। पुलिस उसके हुलिए के आधार पर उसकी तलाश कर रही है। एक एजेंट का नाम भी पुलिस को उसने बताया है।

एएसपी क्राइम राजेश दंडोतिया ने बताया कि सूखे नशे का सामान लेने वालों पर कार्रवाई के लिए एक टीम लगाई है। बीती रात सूचना मिली कि सिटी सेंटर इलाके में एक स्मैक तस्कर स्मैक की खेप लेकर खड़ा है।

सूचना मिलते ही डीएसपी रत्नेश सिंह तोमर और उनकी टीम को पड़ताल में लगाया। रात में टीम जैसे ही सिटी सेंटर स्थित रामानुज नगर के पास पहुंची तो सूनसान इलाके में एक युवक दिखा।

इसने टीम को देखकर दौड़ लगाई, लेकिन उसका पीछा कर टीम ने उसे पकड़ लिया। जब उसकी तलाशी ली तो उसके पास से 42 ग्राम स्मैक बरामद हुई। जिसकी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत 4.20 लाख रुपए है।

जब उससे पूछताछ की गई तो उसने बताया वह खुद स्मैक का नशा करने का आदी है और स्मैक बेचता भी है। उसने एक बाबा से स्मैक खरीदी थी, जो इलाके में घूम रहा था। उसने बताया वह बाबा को जानता नहीं है। अब इस आधार पर स्मैक बेचने वाले की तलाश कर रही है।

पकड़े गए स्मैक तस्कर का नाम प्रेम सिंह पुत्र राम सिंह तोमर निवासी मुरैना है। वह मुरैना से यहां स्मैक खरीदने आया था। उसने बहोड़ापुर क्षेत्र के रहने वाले एक एजेंट का नाम बताया है, जो लंबे समय से स्मैक की तस्करी कर रहा है। इस एजेंट ने ही उसे बाबा के बारे में बताया था। अब पुलिस उस एजेंट की तलाश में लग गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here