बेटी की होने वाली थी शादी, लुटेरों ने गला घोंटा:भिंड में कारोबारी के घर 5 करोड़ की लूट;Daughter was about to get married, robbers strangled: 5 crore looted from businessman’s house in Bhind

 

पुलिस की वर्दी में आए थे बदमाश भिंड के गोहद में 3 बदमाशों ने दिनदहाड़े बर्तन व्यापारी के घर में घुसकर 5 करोड़ से ज्यादा की लूट की।

विरोध करने पर उन्होंने व्यापारी को बांधकर पीटा। बेटी की गला घोंटकर हत्या कर दी। आरोपी यहां से 15 लाख कैश, करीब 3.5 किलो सोना और 6 किलो चांदी के जेवर ले गए। दो लुटेरे पुलिस की वर्दी में थे। एक सिविल ड्रेस में था। घटना रविवार शाम 4.30 बजे से शाम 7 बजे के बीच की है। व्यापारी ने लूट की इस घटना की आंखोंदेखी बताई। पढ़िए कैसे पुलिस की वर्दी में लुटेरों ने इस वारदात को अंजाम दिया।

बेटी ने रोका तो मुंह में कपड़ा ठूंस दिया, गला घोंट दिया

पीड़ित बर्तन कारोबारी रामकिशोर लोहिया (70) ने बताया कि – रविवार को मैं और मेरी बेटी रिंकी (28) घर में थी। बेटा लकी (23) दोपहर दो बजे से ही बाहर गया हुआ था। शाम के 4.30 बजे थे। 3 लोगों ने दरवाजा खटखटाया। इनमें दो पुलिस की वर्दी पहने हुए थे।

इनमें से एक बदमाश ने मुझसे कहा कि आपके बेटे लकी ने चोरी की पिस्टल खरीदी है। इसके कारतूस आपके घर में रखे हैं। हमें जांच करनी है। पुलिस की वर्दी देख मैंने घर का दरवाजा खोल दिया। तीनों ने घर की तलाशी ली। तलाशी करते-करते वे ऊपरी मंजिल के कमरे में बनी तिजोरी तक पहुंच गए। उन्होंने तिजोरी खोली तो मेरी बेटी रिंकी ने इसका विरोध किया।

उसने चिल्लाकर बताया कि बाबूजी ये पुलिस नहीं चोर-उचक्के या बदमाश हैं। बदमाशों ने मेरी बेटी से मारपीट की। मेरी बेटी ने खूब संघर्ष किया। बदमाशों ने बेटी के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। जब मैं ऊपर पहुंचा तो मुझसे भी मारपीट की। मुझे कुर्सी से बांध दिया। लूट के बाद लाइट बंद कर चले गए। इसके बाद मैं बेहोश हो गया।पड़ोसी को शक हुआ तो बुलाई पुलिस

शाम करीब साढ़े सात बजे रामकिशोर लोहिया के घर का दरवाजा खुला दिखा तो उनके पड़ोसी मुन्ना हलवाई को संदेह हुआ। उन्होंने घर में जाकर देखा तो सामान बिखरा पड़ा था। रिंकी बेसुध थी। वे तत्काल बाहर आए और लोगों को इसके बारे में बताया। हिम्मत कर वापस घर में गए आवाज लगाई तो लोहिया ने भी आवाज लगाकर उन्हें पुकारा। आसपास के लोगों के सहयोग से उन्होंने व्यापारी की रस्सियां खोली।

सभी ने रिंकी को देखा तो वह अचेत थी। दम घुटने से उसकी मौत हो चुकी थी। सूचना मिलने पर स्थानीय विधायक मेवाराम जाटव सहित अन्य जनप्रतिनिधि और लोग मौके पर पहुंचे। रात करीब 10 बजे पुलिस भी यहां पहुंची। रिंकी के शव को अस्पताल पहुंचाया। सूचना मिलने पर एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान भी देर रात मौके पर पहुंच गए थे।

उन्होंने नाराज व्यापारियों को आश्वासन दिया कि जल्द ही लूट का पर्दाफाश होगा। पुलिस ने क्षेत्र के सीसीटीवी कैमरे खंगाल रही हैं।बेटी की शादी तैयारी कर रहे थे लोहिया

रामकिशोर लोहिया नगर के बर्तन के बड़े व्यापारी हैं। इनकी 9 पुत्रियां हैं। आठ पुत्रियों का विवाह हो चुका है। तीन साल पहले इनकी पत्नी का निधन हो चुका है। अभी घर में उनकी छोटी बेटी रिंकी (28), बेटी लकी (23) और वे तीन ही लोग रहते थे। रामकिशोर लोहिया रिंकी के विवाह की तैयारी कर रहे थे। ऐसे में घर में काफी कैश रखा था। उन्होंने बताया कि जेवर पुश्तैनी हैं।लोहिया का कोई बेटा नहीं था। ऐसे में करीब 22 वर्ष पहले उन्होंने कैलारस से एक बेटे को गोद लिया था।

उन्होंने बताया कि बेटा बड़ा होकर गलत संगत का शिकार हो गया है। मादक पदार्थों का सेवन करता है। इसके कारण आए दिन हमारा विवाद होता था। घटना से करीब दो घंटे पहले दोपहर दो बजे वह घर से चला गया था। जो वारदात के बाद रात करीब साढ़े 10 बजे घर पहुंचा था। तब तक क्षेत्र के सैकड़ों लोग घर आ चुके थे। पुलिस ने संदेह के आधार पर बेटे से पूछताछ कर रही है।

मामले की जानकारी लगते ही व्यापारी की सभी बेटियां-दामाद भी आ गए। सोमवार को रिंकी का अंतिम संस्कार किया गया। डॉक्टरों ने बताया कि प्रथम दृष्टया रिंकी की मौत दम घुटने से हुई है। एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान थाने पर ही डेरा डाले हैं। विधायक मेवाराम जाटव ने आरोप लगाया कि गोहद पुलिस लंबे समय से काली गिट्टी के ट्रक डंपर से अवैध वसूली का काम कर रही है।

नगर में नियमित गश्त नहीं हो रहा है। अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। पुलिस का अपराधियों पर अंकुश नहीं है। इसी वजह से दिनदहाड़े इतनी बड़ी वारदात को अंजाम दिया गया। जल्द ही बड़ा आंदोलन किया जाएगा।एक माह पहले ब्लैक कमांडो ड्रेस में आए थे 6 लोग

बर्तन व्यापारी रामकुमार लोहिया ने बताया कि एक माह पहले भी 6 बदमाश घर पर घटना को अंजाम देने आए थे। इनमें 3 लोग ब्लैक कमांडो ड्रेस पहने हुए थे। बेटी ने पूछा था कि आप लोग कौन हैं, तो उन्होंने पूछा कि कोचिंग इसी घर में चलती है क्या।

बाहर चहल-पहल होने और बेटी के सवाल पूछने पर वे लोग बाहर निकल गए थे। घर के बाहर 3 लोग और खड़े थे। जब मैं घर दुकान बंद कर पहुंचा तो बेटी ने इसके बारे में बताया था। इसके बाद बेटी के कहने पर घर के मेन गेट के बाहर लोहे की मजबूत जाली लगवाई थी।नगर के एक व्यापारी को उठाया

लोहिया के घर घटना को अंजाम देने की रैकी करीब 20 दिन पहले से चल रही थी। इससे जुड़े तार नगर के एक सोना व्यापारी की भी भूमिका संदिग्ध बताई गई है। पुलिस ने उसे थाने बुलाकर पूछताछ की थी। एसपी शैलेंद्र सिंह का कहना है कि कुछ मजबूत सुराग हाथ लगे हैं। बताया जा रहा है कि गोहद के आसपास ग्रामों के दो अन्य युवकों को भी पुलिस ने इस प्रकरण में उठाकर सुराग हासिल कर लिए हैं।

मामले में तीन अंतरराष्ट्रीय चोरों के भी शामिल होने की बात आ रही है। एसपी शैलेंद्र चौहान ने सोमवार को पूरा दिन गोहद में गुजारा। इस बीच पुलिस टीमों ने कई जगह दबिश दी। पुलिस इस हत्या लूट का खुलासा करने के बेहद करीब है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here