MP News: सीहोर जिले में बीजेपी विधायक के भतीजे की शिकायत पर खजूरी सड़क पुलिस ने दो महिलाओं समेत चार लोगों के खिलाफ ब्लैकमेलिंग, अड़ीबाजी और मारपीट का मामला दर्ज किया है। सीहोर निवासी 46 साल के मुकेश वर्मा ठेकेदार हैं और उनके चाचा बीजेपी विधायक हैं।

ठेकेदार मुकेश ने पुलिस को बताया, उनकी एक सोनाली नाम की महिला से जान पहचान थी। बुधवार को सोनाली ने उन्हें कॉल कर न्यू मार्केट बुलाया। महिलाएं मुकेश के जन्मदिन की पार्टी लेना चाहती थीं। सोनाली के साथ उसकी सहेली आरती भी थी। इसके बाद यहां से तीनों पार्टी करने खजूरी सड़क के लिए रवाना हो गए। खजूरी सड़क थाना प्रभारी संध्या मिश्रा ने बताया, पार्टी करने के लिए आकृति एक्जोटिका में 2,500 रुपए में एक मकान बुक कराया और यहां तीनों ने पार्टी की। दोपहर में शुरू हुई पार्टी देर शाम तक चली।

इस बीच मुकेश वर्मा को बेहोशी जैसी आने लगी। इसी दौरान अचानक दो नकाबपोश युवक वहां आ धमके और उन्होंने मारपीट शुरू कर दी। कपड़े फाड़कर हाथ-पैर बांध दिए, इसके बाद दोनों युवक बदनाम करने की धमकी देकर एक करोड़ रुपये की मांग करने लगे। ठेकेदार ने पैसे देने से मना किया तो वे बोले एक करोड़ रुपये नहीं दिए तो वे जान से मार डालेंगे। इसी बीच डरा-धमका कर मोबाइल का पासवर्ड पूछा, फिर सोनाली और आरती ने भी इस दौरान कहा इनको पैसे दे दो, नहीं तो ये हम सबको मार डालेंगे।

इसके बाद ठेकेदार मुकेश ने तीन बार में आरती के खाते में 1.09 लाख रुपये ट्रांसफर कर दिए। इसके बाद उन्होंने मुकेश की जेब में रखे करीब 4-5 हजार रुपये भी निकाल लिए। इसके बाद दोनों युवतियां भी उन बदमाशों के साथ धमकाने लगीं। चारों कह रहे थे कि यदि रुपये नहीं दिए तो तुम्हारे अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए जाएंगे। धमकी से डरे-सहमे मुकेश ने रुपयों के इंतजाम के लिए दोस्तों को फोन किया तो उन्होंने भी इनकार कर दिया था।

मुकेश ने पुलिस को बताया, सोनाली और उसके साथियों ने मुकेश से उसकी स्कॉर्पियो की चाबी छीनी और लेकर चले गए। आरोपियों के चले जाने के बाद मुकेश ने डायल 100 को कॉल किया। इसके अलावा परिजन को भी इत्तला दी। इसके बाद मुकेश को 108 एंबुलेंस बुलवाकर बैरागढ़ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से उन्हें एक प्राइवेट अस्पताल में शिफ्ट किया गया। अस्पताल में फिर महिलाओं का फोन आया और उन्होंने कहा एक करोड़ रुपये दे दो, नहीं तो जान से मार देंगे। इलाज के बाद सामान्य स्थिति होने पर मुकेश वर्मा ने खजूरी थाने पहुंचकर घटना के बारे में जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ने सोनाली, आरती और दो साथियों के खिलाफ मारपीट, अड़ीबाडी और ब्लैकमेलिंग का मामला दर्ज किया।

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here