MP News : कटनी जिले में बीते दिनों पुलिसकर्मियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इसमें कई पुलिसकर्मी बीमार मिले। तीन पुलिसकर्मी हार्ट पेशेंट निकले तो कई हाइपरटेंशन, बीपी और शुगर जैसी बीमारियों से ग्रसित पाए गए। शिविर में दवाइयां भी दी गईं।

जानकारी के अनुसार कटनी जिले के झिंझरी स्थित पुलिस लाइन में पुलिसकर्मियों और उनके परिजनों के लिए स्वास्थ्य परीक्षण का आयोजन किया गया था, जहां जबलपुर से आई डॉक्टरों की टीम ने सभी की अलग-अलग तरह की जांच की। परीक्षण के दौरान तीन पुलिसकर्मी हृदय रोगी मिले तो बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी हाइपरटेंशन, बीपी और शूगर जैसी बीमारियों से ग्रसित पाए गए, जिन्हे डॉक्टरों ने विभिन्न प्रकार की दवाई भी वितरित की।

जबलपुर से आए डॉक्टरों की टीम का नेतृत्व कर रहे एसके दुबे ने बताया कि 181 पुलिसकर्मी की जांच में प्रधान आरक्षक मनोहर स्वरूप, अनिल कुमार और शिवशंकर दुबे हार्ट संबंधी रोग से ग्रसित हैं, जिनको जल्द ही उपचार की आवश्कता है तो सबसे ज्यादा हाइपरटेंशन, बीपी और शुगर के मरीज मिले हैं जिसके पीछे की वजह ज्यादा टेंशन लेकर काम करना, समय से न  खाना और सोना है। सभी को प्राथमिक रूप में दवाई दी गई है।

बता दें काम के बोझ तले पुलिसकर्मी खाने से लेकर सोने का वक्त नहीं निकाल पा रहे, जिससे वे कई बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। जांच करवाने एसपी, एएसपी, डीएसपी समेत बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी अपने परिवार के साथ पहुंचे थे जहां खुद पुलिस अधीक्षक सुनील जैन का ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ मिला। एसपी सुनील जैन ने बताया कि पुलिस लाइन में 200 के करीब पुलिस वाले और उनके परिजनों ने स्वास्थ्य परीक्षण करवाया है, जिनमें 3 पुलिस वाले को हृदय रोग की गंभीर समस्या पाई गई जिनके उपचार के लिए जबलपुर में बात की जा रही है तो हाईटेंशन और बीपी से निजात के लिए सभी को सुबह मॉरिंग वॉक और योगा के लिए आरआई से बात करते हुए दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे।

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here