भोपाल: कोविड-19 केटीके भले ही 100 करोड लोगों को लग चुके हैं लेकिन कोरोना के दुष्प्रभावों को कभी भुलाया नहीं जा सकता है पूर्णा जैसी संक्रामक बीमारी में हर बार या वायरस अपने नए-नए वैरीअंट को लेकर चर्चाओं में आ जाता है वर्तमान में नए वैरीअंट लेकर जहां केंद्र सरकार एवं प्रदेश सरकार की नींद उड़ा कर रख दिए नए वेरेंट को लेकर सुबह के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने नया फरमान जारी कर दिया है मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ना केवल अचानक मीटिंग बुलाकर स्कूलों के लिए नई गाइडलाइन जारी की बल्कि एक के बाद एक कई बयान जारी किए।

मध्य प्रदेश रहेगा अलर्ट पर- शिवराज सिंह

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं कल कलेक्टर्स, एसपी के साथ COVID19 के संबंध में वीसी के माध्यम से बैठक एवं समीक्षा कर संबंधित सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दूंगा। प्रदेश पूरी तरह से अलर्ट पर रहेगा। मध्य प्रदेश के प्रमुख दो शहरों का जिक्र करते हुए शिवराज सिंह ने कहा कि प्रमुख रूप से हमारे दो शहरों में भोपाल एवं इंदौर से ही कुछ पॉजिटिव प्रकरण आ रहे हैं। इनकी संख्या भी ऐसी नहीं है कि हमारे मन में डर पैदा करे, लेकिन सावधानी जरूरी है। मेरा सभी प्रदेशवासियों से आग्रह है कि जागरुक रहें, मास्क लगायें और यथासंभव दूरी बनाये रखें, हाथ पहले की तरह साफ करते रहें। जरा भी लक्षण दिखे, तो तुरंत टेस्ट करवायें।

सीएम ने की जनता से अपील

करुणा के नए वेरिएंट और इसके संक्रमण की दर को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जनता से अपील की है और कहा कि मध्यप्रदेशवासियों से आग्रह है कि बिलकुल भी असावधान न रहें। संक्रमण फैलने से रोकने के लिए जो नियम हैं, उनका पालन अवश्य करें। सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी। हमारी कोशिश रहेगी कि तीसरी लहर न आये। टेस्ट, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और अस्पताल ले जाने तथा चिकित्सा जैसी सभी व्यवस्था हम करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here