बलिया से अनिल सिंह

जिलाधिकारी ने की संचारी रोग नियंत्रण व दस्तक अभियान की समीक्षा


– आम जनता से फीडबैक लेकर होगा अभियान के कार्य का सत्यापन


बलिया: 1 से 31 जुलाई तक चलने वाले संचारी रोग नियंत्रण अभियान की तैयारियों की समीक्षा जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने की। उन्होंने बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में स्वास्थ्य, शिक्षा, पंचायत व अन्य सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर अभियान को सफल बनाने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। सभी विभागों से सम्बंधित जिम्मेदारी देते हुए उसके हिसाब से प्लान बनाकर कार्य करने को कहा। 16 से 31 जुलाई तक चलने वाले दस्तक अभियान की भी समीक्षा की। बैठक में अनुपस्थित होने पर सीएचसी सीयर व बांसडीह के प्रभारी चिकित्साधिकारी का वेतन रोकने का आदेश दिया।

जिलाधिकारी ने कहा कि आम जनता से फीडबैक लेकर अभियान के कार्य का सत्यापन किया जाएगा। जिनकी लापरवाही सामने आएगी, उनके ऊपर कार्यवाही भी होगी। नगर निकाय के सफाई निरीक्षक व पंचायत राज विभाग के एडीपीआरओ को बैठकर माइक्रोप्लान बना लेने को कहा। उन्होंने निर्देश दिया कि नगरीय क्षेत्रों में फॉगिंग युद्धस्तर पर कराया जाए। नगरपालिका बलिया की फॉगिंग मशीन खराब होने की जानकारी मिलने पर कहा कि दो दिन के अंदर उसे ठीक कराकर अवगत कराएं।

आवश्यकता पड़ने पर अन्य निकायों से लेकर फागिंग कराकर वापस कर दें। मलेरिया यूनिट से जुड़े अधिकारियों को भी जरूरी दिशा-निर्देश दिए। चूहों व छछुंदरों को नियंत्रित करने के लिए कृषि विभाग के अधिकारी से जानकारी ली। सुकरबाड़ों को आबादी से दूर शिफ्ट करने के लिए जागरूक करने की जिम्मेदारी पशुपालन विभाग को दी। अन्यथा की स्थिति में सख्ती बरतने को कहा। हर सीएचसी-पीएचसी व उप केंद्रों पर पोस्टर-बैनर के जरिए लोगों में जागरूकता लाने के निर्देश दिए।

बेसिक शिक्षा व पंचायत राज विभाग के अधिकारी को फटकार

झाड़ियों की कटाई नहीं होने को लेकर पंचायती राज विभाग के अधिकारी से सवाल किया। उन्होंने कहा कि यह लोगों से स्वास्थ्य से जुड़ा कार्य है, ऐसे कार्य में लापरवाही ठीक नहीं है। शीघ्र इस अभियान से जुड़े अपने विभाग के कार्य को करके अवगत करावें। जागरूकता से सम्बंधित कार्य भी ठीक से नहीं होने पर बेसिक शिक्षा के अधिकारी पर नाराजगी जताई।

आम जनता से पूछकर करूँगी सफाई कार्य का सत्यापन

उन्होंने कहा कि बलिया बाढ़ प्रभावित जनपद है, ऐसे में संचारी रोग के प्रति यहां और सजग रहने की जरूरत है। साफ-सफाई व संचारी रोगों से बचाव के प्रति लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता पर विशेष जोर दिया। यह भी कहा कि स्वयं भ्रमण करूँगी और आम जनता से पूछकर सफाई कार्य का सत्यापन करूँगी। बेहतर सफाई का यही मानक होगा। इसलिए कार्य ऐसा हो कि आम जनता को लगे कि सफाई हो रही है। बैठक में सीआरओ विवेक श्रीवास्तव, सीएमओ डॉ नीरज पांडेय, डॉ केशव व अन्य अधिकारी थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here