बलिया ब्यूरो चीफ अनिल सिंह

बलिया – अपने क्षेत्र भ्रमण एवं जयप्रभा सेतु के कटे हुए एप्रोच मार्ग देखने के लिए मांझी पहुँचे बैरिया विधायक सुरेन्द्र सिंह तो राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के परियोजना प्रबंधक एवं ठेकेदार से मुलाकात हो गई।मांझी पूल पर मिलने के बाद, एनएच 31 पर बनल बड़े-बड़े गड्ढा, जलजमाव व पुनर्निर्माण कार्य मे देरी से नराज विधायक सुरेन्द्र सिंह ने शुक्रवार की शाम गुस्सा दिखाते हुए स्वयं कीचड़ एवं गंदे पानी में उतरकर साथ में राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के परियोजना प्रबंधक एवं ठेकेदार को सड़क पर बने गड्ढे में लगे हुए पानी एवं कीचड़ में अपने साथ पैदल चलने के लिए कहे। जिस पर परियोजना प्रबन्धक ने बताया कि चार महीना पहले मेरी पोस्टिंग आजमगढ़ हुई है। और मैं सेना का रिटायर्ड हूं, तब विधायक ने कहा कि सैनिकों व भूतपूर्व सैनिकों का बहुत सम्मान करता हूं। आप सेना से रिटायर्ड हुए है, इसलिए आप जाकर अपने गाड़ी में बैठ जाइए, किन्तु विधायक ने ठेकेदार को नहीं छोड़ा और घण्टो अपने साथ बैरिया-माझी मार्ग पर कीचड़ व पानी में अपने साथ चलने को मजबूर किया। घाट, नौकटोला के बाद बैरिया बाजार में ठेकेदार व परियोजना प्रबन्धक को लेकर विधायक पहुंचे तो लोगों की भीड़ लग गयी।विधायक ने कहा कि गलती एनएचएआई व ठेकेदार कर रहा है। गाली जनप्रतिनिधियों को सुनना पड़ रहा है।
मैं अगर गाली सुनूंगा तो उसका खामियाजा अधिकारियों व ठेकेदार को भुगतना ही पड़ेगा। परियोजना प्रबन्धक ने विधायक से एक मौका देने का आग्रह किया। कहा कि शनिवार दोपहर तक जयप्रभा सेतु का कटा हुआ एप्रोच मार्ग बन जायेगा। कार्य तत्काल शुरू होगा। प्रबन्धक ने यह भी कहा कि एक सप्ताह के भीतर बेलहरी से मांझी घाट तक एनएच 31 पर बने गड्ढों को पाट दिया जाएगा, ताकि जनता को आने जाने में असुविधा न हो। वही पुर्नर्निर्माण कार्य में भी मानक का अनुपालन व कार्य को गति प्रदान की जाएगी। लगभग तीन घण्टे बाद विधायक ने परियोजना प्रबन्धक व ठेकेदार को वापस जाने दिया। उनके साथ परशुराम सिंह, नन्दगोपाल सिंह, हरि सिंह प्रधान, मंगल सिंह, हरिकांचन सिंह, मार्कण्डेय सिंह सहित दर्जनों भाजपाई मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here