बलिया ब्यूरो चीफ अनिल सिंह

बलिया – आजादी के जंग में शहीदों की कुर्बानी एवं सेनानियों के योगदान को कभी भी विस्मृत नहीं किया जा सकता।उन्हीं की बदौलत आज हम आजाद मुल्क में सांस ले रहे हैं।आजादी की जंग में उन्होंने अपना सर्वस्व निछावर कर दिया।उनके आदर्शों एवं नीतियों पर चलकर ही हम राष्ट्र को सबल बना सकते हैं।यह बातें पुलिस अधीक्षक आर के नैयर ने कही। वह गुरुवार को शहीद स्मारक सुखपुरा के जीर्णोद्धार,सुंदरीकरण एवं लघु पुस्तकालय तथा सभागार का लोकार्पण करने के बाद उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे।कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव पर ग्राम पंचायत सुखपुरा द्वारा कराया गया यह कार्य निश्चित रूप से सराहनीय है। बीएचयू आयुर्वेद विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर डॉक्टर शिवजी गुप्ता ने कहा कि आने वाली पीढ़ियां इस शहीद स्मारक से प्रेरणा लेगी और राष्ट्र को मजबूत बनाने में अपना योगदान करेगी।आज जहां हम शहीदों के कुर्बानियों को विस्मृत करते जा रहे हैं वही पंचायत ने इस स्मारक का विस्तारीकरण कर क्षेत्र के लिए लोगों के लिए एक नायाब तोहफा दिया है। इसके पूर्व अतिथि द्वय ने शहीद स्मारक पर माल्यार्पण कर शहीदों के स्मृतियों को नमन किया एवं परिसर में नवनिर्मित लघु पुस्तकालय का अवलोकन भी किया।पुलिस अधीक्षक एवं डॉ शिवजी गुप्ता ने शहीद स्मारक पर पुष्प अर्पित कर शहीदों के स्मृतियों को नमन किया।आयोजक उमेश कुमार सिंह,ग्राम प्रधान अभिमन्यु चौहान द्वारा अतिथि द्वय को स्मृति चिन्ह व अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया गया।अतिथि द्वय ने सेनानी परिवार के आश्रितों एवं विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालों को अंगवस्त्रम और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर सेनानी रामविचार पांडेय,पूर्व प्रधानाचार्य विजय शंकर सिंह,ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष सौरभ कुमार,जिला अध्यक्ष शशिकांत मिश्र, प्रमुख क्षेत्र पंचायत चंद्र भूषण सिंह, बृजानंद पांडेय,जिला पंचायत के पूर्व चेयरमैन श्याम बहादुर सिंह आदि मौजूद रहे।संचालन उमेश कुमार सिंह एवं अध्यक्षता विजय शंकर सिंह ने किया।आभार ग्राम प्रधान अभिमन्यु चौहान ने व्यक्त किया।


1-फीता काटकर व शिलापट्ट का अनावरण कर शहीद स्मारक का लोकार्पण करते पुलिस अधीक्षक आरके नय्यर व डॉक्टर शिवजी गुप्ता।
2- लघु पुस्तकालय एवं का निरीक्षण करते व पुस्तकालय में रखी पुस्तिका पर नोट लिखते पुलिस अधीक्षक।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here